Headline • मैं 25 साल से देख रहा हूं, नेशनल अवॉर्ड कोई भी जीते उस पर हमेशा चर्चा होती है: अक्षय़ कुमार • UP में बनेगा एंटी भू माफिया टास्क फोर्स, 15 मई को विशेष सत्र, 15 सरकारी छुट्टियां खत्म• चैंपियंस ट्रॉफी के लिए इंग्लैंड की टीम का हुआ ऐलान, यह तेज गेंदबाज हुआ बाहर • हमारी सरकार में आजम खान को कोई खतरा नहीं है, वह सुरक्षित रहेंगे: स्वामी प्रसाद मौर्य• रिपोर्टर के सवाल पर भड़क गए अखिलेश, गुस्से में कहा- ''तुम भगवा पार्टी के सदस्य हो''• अवैध वसूली पर बोले गाजियाबाद SSP- ''पुलिस हो रही बदनाम, नगर निगम के ठेकेदार कर रहे हैं वसूली''• अल्मोड़ा में माओवादियों ने लगाया पोस्टर, उत्तराखंड में बढ़ रहा है माओवाद?• "मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकरों को उतारा जाना चाहिए": साध्वी प्राची • नक्सलियों को करारा जवाब देते शहीद हुए थे UP के 3 लाल, गोली खाकर भी नहीं हटे थे पीछे• बेखौफ लूटेरे: पहले घर में बैठकर पी शराब, फिर लूट ले गए लाखों का माल • 37 साल की नौकरी के बाद ऐसा है UP डीजीपी का घर, पहली बार में ही क्रैक किया था IPS का एग्जाम• रेप के आरोपी मंत्री गायत्री प्रजापति को पॉस्को कोर्ट से मिली जमानत • मालेगांव ब्लास्ट केस: साध्वी प्रज्ञा को बॉम्बे हाईकोर्ट ने दी जमानत• GF से फिजीकल रिलेशन बनाता था पति, विरोध करने पर 3 दिन तक कैद कर दिया तलाक• सुकमा नक्सल अटैक: गृहमंत्री राजनाथ सिंह और CM ने दी श्रद्धांजलि• सुकमा नक्सल अटैक: ये जवान हुए हैं शहीद, पूरा देश दे रहा है श्रद्धांजलि• 'अपने बेटे पर फक्र है मुझे, मेरे 'शेर' ने पांच नक्सलियों को मार गिराया है'• तीन तलाक पीड़िता की मांग- मोदी जी या तो न्याय दीजिए, नहीं तो दीजिए इच्छा मृत्यु • सुकमा नक्सल अटैक: 3-4 नक्सिलयों के सीने में गोली मारकर घायल हुआ शेर मोहम्मद • उन्नाव प्रसव मामले में स्वास्थ मंत्री ने नर्स और डॉक्टर को किया सस्पेंड• गौरक्षा, तीन तलाक की बहस छोड़िए, नवाजुद्दीन का यह वीडियो देखिए, दिल को सुकून मिलेगा• योगी सरकार की बड़ी सौगात, कानपुर होगा कटौती मुक्त क्षेत्र• सुकमा में नक्सलियों के साथ मुठभेंड़ में 24 जवान हुए शहीद, CM रमन सिंह ने बुलाई अपात बैठक• हैप्पी बर्थ डे सचिन: फोटो शेयर कर बोले सहवाग- भगवान जी सो रहे हैं• 'जपानी गुड़िया' के साथ मेरठ में हुई लूट, कार्रवाई की जगह सेल्फी लेती रही पुलिस 
'समाचार प्लस' के एडिटर-इन-चीफ उमेश कुमार सम्मानित,  FWJ के बने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

जयपुर: राजस्थान की राजधानी जयपुर में आयोजित इंडियन फेडरेशन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट के दो दिवसीय सम्मेलन और 128वीं राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक का मंगलवार को समापन हुआ। समापन समारोह से पूर्व चले सत्र में आईएफडब्ल्यूजे के नवनिर्वाचित राष्ट्रीय उपाध्यक्ष 'समाचार प्लस' के एडिटर इन चीफ उमेश कुमार का सम्मान समारोह आयोजित किया गया। सम्मेलन में मंच पर राजस्थान विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी, भाजपा सांसद ओम बिड़ला के साथ ही समाचार प्लस ग्रुप ऑफ चैनल्स के एडिटर इन चीफ उमेश कुमार भी मौजूद थे। देशभर के विभिन्न राज्यों से आये श्रमजीवी पत्रकार संघों ने 'समाचार प्लस' के एडिटर-इन-चीफ उमेश कुमार को साफा, मालाएं, शॉल, श्रीफल और मोमेंटो भेंट कर पत्रकारिता के क्षेत्र में किए गए उनके अविस्मरणीय योगदान और राजनीति मे शुचिता, पारदर्शिता और स्वच्छता के लिए किए गए स्टिंग को लेकर भी अभिनन्दन किया।

आईएफडब्ल्यूजे के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हेमंत तिवारी ने समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ की उत्कृष्ट पत्रकारिता की मिसाल दी और पत्रकार हितों के लिए उनके योगदान पर प्रकाश डाला तो इंद्रलोक सभागार देशभर के श्रमजीवी पत्रकारों की तालियों की गड़गड़ाहट के साथ गूंज उठा।

हेमंत तिवारी ने कहा उमेश कुमार जी के पास एक्सटर्नल एफेयर्स का भी कार्यभार रहेगा। दुनियाभर के देशों में पत्रकार संगठनों, श्रमजीवी पत्रकारों के साथ बैठकें कर विचारों और पत्रकारिता के हित में नीतियों का आदान-प्रदान करने पर ख़ासा ज़ोर रहेगा। उमेश कुमार ने उत्तरप्रदेश सहित देशभर में पत्रकारों पर हो रहे हमले, हत्याओं के मामलों पर बेहद चिन्ता जताई, साथ ही मीडिया से रूबरू होकर कहा कि पत्रकार सुरक्षा एक्ट, लघु और मध्यम श्रेणी के समाचार पत्रों को जीवंत रखना, उनके हितों का ध्यान रखने के लिए वे संघर्ष करेंगे। अगले सप्ताह केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन सौंपा जाएगा और उस पर कार्यवाही को अमलीजामा पहनाने के हरसंभव प्रयास होंगे। उन्होंने कहा- जिस भरोसे के साथ उन्हें चुना गया है, यह भरोसा बना रहे, यही मेरी कोशिश रहेगी।

सम्मेलन में भाजपा सांसद ओम बिड़ला ने लोकसभा में पत्रकार हितों और उनकी सुरक्षा के लिए आवाज़ बुलंद करने की बात कही, साथ ही पत्रकार सुरक्षा कानून के लिए मसौदे पर उच्च स्तर पर खुद मामला उठाने का आश्वासन दिया। तो वहीं, राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी ने भी मीडिया को लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ बताते हुए कहा- पत्रकारों की सुरक्षा और पत्रकारों के हितों का ध्यान रखना सरकारों के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। यह सरकार की ज़िम्मेदारी है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता बनी रहे इसके लिए कड़ाई से प्रयास किए जाएं। उन्होंने कहा प्रतिपक्ष का नेता होने के नाते राजस्थान विधानसभा में भी वे पुरज़ोर तरीके से पत्रकारों के हितों को हर संभव तरीके से उठाएंगे।

सम्मेलन में ख़ास बात यह भी रही कि देशभर के श्रमजीवी पत्रकारों और मीडिया स्टूडेंट्स ने उमेश कुमार के साथ सेल्फी खिंचवाई और उनके ऑटोग्राफ भी लिए। जिससे यह मुलाकात सदा के लिए यादगार बन गई।

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 
  • samachar plus
  • live-tv-uttrakhand
  • live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

  • आलोक वर्मा

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    23 सालों से पत्रकारिता में सक्रिय। दैनिक जागरण, करंट न...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: