Headline • नशे में पुलिसकर्मी ने किया बवाल, सीएम अखिलेश को बता रहा था भाई• करन की किताब में हुए ऐसे खुलासे, जानें रणबीर और सनी ने कब खोई थी 'Virginity'• BJP-BSP के खिलाफ अखिलेश की नई पॉलिसी, ऐसे 'साइकिल' को दिलाएंगे जीत• बीजेपी के सबसे बुजुर्ग नेता हुए ND तिवारी, बेटे रोहित शेखर के साथ BJP का थामा दामन• शॉट लगाते समय बैट्समैन के हाथ से यूं छूटा बल्ला, विकेटकीपर का टूटा जबड़ा• कैशलेस इंडिया को लग सकता है झटका, ऑनलाइन ट्रांजेक्शन का गिरा ग्राफ• नाइजीरियन वायुसेना ने गलती से रिफ्यूजी कैम्प पर गिराए बम, 100 से ज्यादा की मौत• सेशंस कोर्ट ने सलमान खान को किया बरी, जेल जाने से बचे बॉलीवुड के 'दबंग'• कानपुर रेल हादसे के पीछे ISI का हाथ, जांच के बाद बिहार पुलिस का दावा• पाक मूल के ब्रिटिश बॉक्सर आमिर का सेक्स वीडियो लीक, वाइफ फरयाल पर लगे आरोप• 1.2 लाख स्क्वायर किमी में हुई थी MH-370 की खोज, बंद हुआ सर्च अभियान • कभी दिल्ली की सड़कों पर खींचते थे टांगा, अब कई CEO से ज्यादा पाते हैं सैलरी• शीना बोरा मर्डर मिस्ट्री: इंद्राणी-पीटर मुखर्जी की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट ने तय किए मर्डर के आरोप • 'दंगल' की बेटी के बचाव में आए आमिर, कहा- आप देश नहीं दुनिया के लिए रोल मॉडल• भतीजे से हार मानने को तैयार नहीं शिवपाल, EC के फैसले को कोर्ट में देंगे चुनौती!• दो दिन में गठबंधन का ऐलान करेंगे अखिलेश, कहा- थोड़ा इंतजार कीजिए • BJP ने UP में 149 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की, उत्तराखंड में 64 सीटों पर उतारे प्रत्याशी• अखिलेश करेंगे 'साइकिल' की सवारी, चुनाव आयोग में मुलायम को मिली शिकस्त• राहुल गांधी ने जनता को दिखाई अपनी गरीबी, फटी जेब के सहारे कांग्रेस की नैया• दीपिका के साथ विन डीजल की 'चाय पर चर्चा', प्रमोशन के लिए आए थे इंडिया• दीपिका के साथ विन डीजल की 'चाय पर चर्चा', प्रमोशन के लिए आए थे इंडिया• मैदान पर धोनी से हुई ऐसी भूल, कैप्टन के अंदाज में किया रिएक्ट• कार्यकर्ताओं के बीच इमोशनल हुए मुलायम, कहा- मुस्लिमों को पार्टी से दूर कर रहा अखिलेश• J&K: अनंतनाग में सुरक्षाबलों ने हिजबुल मुजाहिदीन के 3 आतंकियों को मार गिराया• उत्तराखंड चुनाव: कांग्रेस के यशपाल आर्य बीजेपी में हुए शामिल, अमित शाह ने कराई एंट्री
'समाचार प्लस' के एडिटर-इन-चीफ उमेश कुमार सम्मानित,  FWJ के बने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

जयपुर: राजस्थान की राजधानी जयपुर में आयोजित इंडियन फेडरेशन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट के दो दिवसीय सम्मेलन और 128वीं राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक का मंगलवार को समापन हुआ। समापन समारोह से पूर्व चले सत्र में आईएफडब्ल्यूजे के नवनिर्वाचित राष्ट्रीय उपाध्यक्ष 'समाचार प्लस' के एडिटर इन चीफ उमेश कुमार का सम्मान समारोह आयोजित किया गया। सम्मेलन में मंच पर राजस्थान विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी, भाजपा सांसद ओम बिड़ला के साथ ही समाचार प्लस ग्रुप ऑफ चैनल्स के एडिटर इन चीफ उमेश कुमार भी मौजूद थे। देशभर के विभिन्न राज्यों से आये श्रमजीवी पत्रकार संघों ने 'समाचार प्लस' के एडिटर-इन-चीफ उमेश कुमार को साफा, मालाएं, शॉल, श्रीफल और मोमेंटो भेंट कर पत्रकारिता के क्षेत्र में किए गए उनके अविस्मरणीय योगदान और राजनीति मे शुचिता, पारदर्शिता और स्वच्छता के लिए किए गए स्टिंग को लेकर भी अभिनन्दन किया।

आईएफडब्ल्यूजे के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हेमंत तिवारी ने समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ की उत्कृष्ट पत्रकारिता की मिसाल दी और पत्रकार हितों के लिए उनके योगदान पर प्रकाश डाला तो इंद्रलोक सभागार देशभर के श्रमजीवी पत्रकारों की तालियों की गड़गड़ाहट के साथ गूंज उठा।

हेमंत तिवारी ने कहा उमेश कुमार जी के पास एक्सटर्नल एफेयर्स का भी कार्यभार रहेगा। दुनियाभर के देशों में पत्रकार संगठनों, श्रमजीवी पत्रकारों के साथ बैठकें कर विचारों और पत्रकारिता के हित में नीतियों का आदान-प्रदान करने पर ख़ासा ज़ोर रहेगा। उमेश कुमार ने उत्तरप्रदेश सहित देशभर में पत्रकारों पर हो रहे हमले, हत्याओं के मामलों पर बेहद चिन्ता जताई, साथ ही मीडिया से रूबरू होकर कहा कि पत्रकार सुरक्षा एक्ट, लघु और मध्यम श्रेणी के समाचार पत्रों को जीवंत रखना, उनके हितों का ध्यान रखने के लिए वे संघर्ष करेंगे। अगले सप्ताह केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन सौंपा जाएगा और उस पर कार्यवाही को अमलीजामा पहनाने के हरसंभव प्रयास होंगे। उन्होंने कहा- जिस भरोसे के साथ उन्हें चुना गया है, यह भरोसा बना रहे, यही मेरी कोशिश रहेगी।

सम्मेलन में भाजपा सांसद ओम बिड़ला ने लोकसभा में पत्रकार हितों और उनकी सुरक्षा के लिए आवाज़ बुलंद करने की बात कही, साथ ही पत्रकार सुरक्षा कानून के लिए मसौदे पर उच्च स्तर पर खुद मामला उठाने का आश्वासन दिया। तो वहीं, राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी ने भी मीडिया को लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ बताते हुए कहा- पत्रकारों की सुरक्षा और पत्रकारों के हितों का ध्यान रखना सरकारों के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। यह सरकार की ज़िम्मेदारी है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता बनी रहे इसके लिए कड़ाई से प्रयास किए जाएं। उन्होंने कहा प्रतिपक्ष का नेता होने के नाते राजस्थान विधानसभा में भी वे पुरज़ोर तरीके से पत्रकारों के हितों को हर संभव तरीके से उठाएंगे।

सम्मेलन में ख़ास बात यह भी रही कि देशभर के श्रमजीवी पत्रकारों और मीडिया स्टूडेंट्स ने उमेश कुमार के साथ सेल्फी खिंचवाई और उनके ऑटोग्राफ भी लिए। जिससे यह मुलाकात सदा के लिए यादगार बन गई।

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 
  • samachar plus
  • live-tv-uttrakhand
  • live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

  • आलोक वर्मा

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    23 सालों से पत्रकारिता में सक्रिय। दैनिक जागरण, करंट न...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: