Headline • PM मोदी का नाम सुन भड़क उठे शिवसेना सांसद गायकवाड़, एयर इंडिया स्टॉफ को 25 बार मारी सैंडल• आज और अभी से अयोध्या, काशी, मथुरा समेत इन तीर्थ स्थलों को मिलेगी 24 घंटे बिजली• समाचार प्लस के रियलिटी चेक में हुआ खुलासा, कई जिलों में टाइम से आफिस नहीं पहुंचे अधिकारी• इस लेडी IPS के साथ मनचलों ने की बदसलूकी, सिविल ड्रेस में ही दिखाई ''असली ताकत'' • बीजेपी संसदों को पीएम का निर्देश, ट्रांसफर-पोस्टिंग से दूर रहें MP• भगत सिंह ने इस घर में बनाई थी लाइब्रेरी, किराए के मकान में देते थे बम बनाने की ट्रेनिंग • CM योगी ने थाने का किया औचक निरीक्षण, अधिकारियों में मची हड़कंप• कोहली की तुलना ट्रंप से करने के बाद बोले अमिताभ बच्चन- ऑस्ट्रेलिया का मीडिया यह तो मानता है कि कोहली विजेता है • Marie Claire के कवर पेज पर दिखेंगी प्रियंका चोपड़ा, मैगजीन ने बताया- 'मोस्ट बैंकेबल बैडएस'• मां ने 12 साल की मासूम की लगाई बोली, 35 के युवक से करा दिए सात फेरे• जानें, उत्तराखंड सरकार में कोई क्यों नहीं बनना चाहता है शिक्षा मंत्री • मोदी की पहल पर मुस्लिम छात्रा को पढ़ाई के लिए मिले पैसे, सारा ने कहा- 'शुक्रिया PM'• दफ्तर में गंदगी देख, योगी सरकार के इस मंत्री ने उठाई झाडू, करने लगें सफाई • बाबरी मस्जिद विवाद: SC में सुनवाई आज, आडवाणी, जोशी, उमा पर आ सकता है बड़ा फैसला• बरेली के डीएम ने जारी की सलाह- फॉर्मल कपड़े पहनकर आएं कर्मचारी • ब्रिटिश संसद के बाहर फायरिंग, कई घायल, सुरक्षाबलों ने संभाला मोर्चा• लोकसभा में बोले सुरेश प्रभु- ''सीनियर सिटिजंस को टिकट बुक कराने के लिए आधार कार्ड जरूरी नहीं'' • BJP को दिया था वोट, SP नेता ने मार-पीट कर कब्जाई जमीन, गांव से निकाला बाहर• CM ने अपने पास रखा होम मिनिस्ट्री, डिप्टी सीएम मौर्य को मिला PWD, पढ़ें मंत्रियों की पूरी लिस्ट• IPS अफसर ने कहा- 'योगी सरकार को बदनाम कर रहे हैं कुछ अफसर'• एनेक्सी भवन में पान-गुटखा खाने पर होगी कार्रवाई : CM योगी• बेटी को लवर संग देख पिता को आया गुस्सा, गर्दन रेतकर BF के घर के बाहर फेंकी बॉडी• कभीं गांव गांव घूमकर करता था स्टेज शो, अब मर्सिडीज से करता है मुंबई की सैर • संकल्प पत्र के वादों को ऐसे पूरा कर रही आदित्यनाथ की सरकार, शासन में सख्त हुए 'योगी' • ISIS की धमकी, '24 मार्च को तबाह हो जाएगा पूर्वांचल'
'समाचार प्लस' के एडिटर-इन-चीफ उमेश कुमार सम्मानित,  FWJ के बने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

जयपुर: राजस्थान की राजधानी जयपुर में आयोजित इंडियन फेडरेशन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट के दो दिवसीय सम्मेलन और 128वीं राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक का मंगलवार को समापन हुआ। समापन समारोह से पूर्व चले सत्र में आईएफडब्ल्यूजे के नवनिर्वाचित राष्ट्रीय उपाध्यक्ष 'समाचार प्लस' के एडिटर इन चीफ उमेश कुमार का सम्मान समारोह आयोजित किया गया। सम्मेलन में मंच पर राजस्थान विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी, भाजपा सांसद ओम बिड़ला के साथ ही समाचार प्लस ग्रुप ऑफ चैनल्स के एडिटर इन चीफ उमेश कुमार भी मौजूद थे। देशभर के विभिन्न राज्यों से आये श्रमजीवी पत्रकार संघों ने 'समाचार प्लस' के एडिटर-इन-चीफ उमेश कुमार को साफा, मालाएं, शॉल, श्रीफल और मोमेंटो भेंट कर पत्रकारिता के क्षेत्र में किए गए उनके अविस्मरणीय योगदान और राजनीति मे शुचिता, पारदर्शिता और स्वच्छता के लिए किए गए स्टिंग को लेकर भी अभिनन्दन किया।

आईएफडब्ल्यूजे के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हेमंत तिवारी ने समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ की उत्कृष्ट पत्रकारिता की मिसाल दी और पत्रकार हितों के लिए उनके योगदान पर प्रकाश डाला तो इंद्रलोक सभागार देशभर के श्रमजीवी पत्रकारों की तालियों की गड़गड़ाहट के साथ गूंज उठा।

हेमंत तिवारी ने कहा उमेश कुमार जी के पास एक्सटर्नल एफेयर्स का भी कार्यभार रहेगा। दुनियाभर के देशों में पत्रकार संगठनों, श्रमजीवी पत्रकारों के साथ बैठकें कर विचारों और पत्रकारिता के हित में नीतियों का आदान-प्रदान करने पर ख़ासा ज़ोर रहेगा। उमेश कुमार ने उत्तरप्रदेश सहित देशभर में पत्रकारों पर हो रहे हमले, हत्याओं के मामलों पर बेहद चिन्ता जताई, साथ ही मीडिया से रूबरू होकर कहा कि पत्रकार सुरक्षा एक्ट, लघु और मध्यम श्रेणी के समाचार पत्रों को जीवंत रखना, उनके हितों का ध्यान रखने के लिए वे संघर्ष करेंगे। अगले सप्ताह केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन सौंपा जाएगा और उस पर कार्यवाही को अमलीजामा पहनाने के हरसंभव प्रयास होंगे। उन्होंने कहा- जिस भरोसे के साथ उन्हें चुना गया है, यह भरोसा बना रहे, यही मेरी कोशिश रहेगी।

सम्मेलन में भाजपा सांसद ओम बिड़ला ने लोकसभा में पत्रकार हितों और उनकी सुरक्षा के लिए आवाज़ बुलंद करने की बात कही, साथ ही पत्रकार सुरक्षा कानून के लिए मसौदे पर उच्च स्तर पर खुद मामला उठाने का आश्वासन दिया। तो वहीं, राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी ने भी मीडिया को लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ बताते हुए कहा- पत्रकारों की सुरक्षा और पत्रकारों के हितों का ध्यान रखना सरकारों के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। यह सरकार की ज़िम्मेदारी है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता बनी रहे इसके लिए कड़ाई से प्रयास किए जाएं। उन्होंने कहा प्रतिपक्ष का नेता होने के नाते राजस्थान विधानसभा में भी वे पुरज़ोर तरीके से पत्रकारों के हितों को हर संभव तरीके से उठाएंगे।

सम्मेलन में ख़ास बात यह भी रही कि देशभर के श्रमजीवी पत्रकारों और मीडिया स्टूडेंट्स ने उमेश कुमार के साथ सेल्फी खिंचवाई और उनके ऑटोग्राफ भी लिए। जिससे यह मुलाकात सदा के लिए यादगार बन गई।

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 
  • samachar plus
  • live-tv-uttrakhand
  • live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

  • आलोक वर्मा

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    23 सालों से पत्रकारिता में सक्रिय। दैनिक जागरण, करंट न...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: