Headline • दो लुटेरे गिरफ्तार, हथियार बरामद• 'हिंदू राष्ट्र' का सपना पूरा करने के लिए मोहन भागवत को बनाया जाए राष्ट्रपति : शिवसेना• योगी 'राज' : सरकारी फाइलों को किया आग के हवाले, किस घोटाले को छिपा रहे हैं अधिकारी?• एंटी रोमियो, बूचड़खानों के नाम पर निर्दोषों पर कार्रवाई, कहीं सरकार को बदनाम करने की साजिश तो नहीं?• पुलिस को लिखा पत्र, 'कहा- बेटी की मंगनी है, भैंसा काटने की अनुमित दें'• सीरत कपूर ने कराया टॉपलेस फोटोशूट, फेसबुक पर शेयर की हॉट तस्वीरें • विश्व के सबसे तेज गेंदबाजों में शुमार शॉन टैट ने क्रिकेट के सभी प्रारुपों को कहा अलविदा • गोमती रिवर फ्रंट के निरीक्षण के दौरान बोले योगी- गोमती का पानी गंदा क्यों, इसके लिए जिम्मेदार कौन है?• BJP सांसद बोले- 'भारत तेरे टुकड़े होंगे बोलने वालों को पटक-पटक कर मारुंगा' • 'वैध बूचड़खानों को तय मानकों का पालन करना होगा, कार्रवाई सिर्फ अवैध बूचड़खानों को लेकर हो रही है'• गन्ना किसानों के पुराने बकाये 15 दिन के अन्दर भुगतान कराया जाये: आदित्यनाथ योगी• मीट कारोबारी आज से बेमियादी हड़ताल पर, 5000 दुकानें रहेगी बंद • देहरादून की बेटी ने पीएम को दिया सुझाव, मोदी ने कहा- धन्यवाद• गृह नगर पहुंचे डिप्टी सीएम केशव, कहा- जहां गड़बड़ होगी वहां पर जांच कराई जाएगी• जिला जेल में कैदियों का उत्पात, अधीक्षक सहित दर्जन भर पुलिसकर्मी घायल• 'प्रिंसिपल सर क्लास रूम में मेरा हाथ पकड़ते थे, फिर सीने पर हाथ लगाते थे, यही नहीं वो...'• जियो के इस नए ऑफर के तहत मिल रहा है 60 GB डेटा फ्री • यूपी के इस युवा गेंदबाज ने पहले ही टेस्ट में की शानदार गेंदबाजी, शेन वॉर्न हुए मुरीद • दो महीने में दिखने लगेगा सरकार का काम, जहां 24 घंटे बिजली होगी वह यूपी होगा : योगी• फेमिना मैग्जीन के लिए यामी गौतम ने कराया हॉट फोटोशूट, देखें तस्वीरें • ब्रिटिश संसद ने कहा- भारत का हिस्सा है गिलिगिट-बाल्टिस्तान, पाक ने कर रखा है जबरन कब्जा • मुंह में गुटखा दबाकर पुलिसकर्मियों को दिला रहे थे सफाई की शपथ, कहा- मैंने झाड़ू लगाने के लिए वर्दी नहीं पहनी है • छोटी-छोटी चीजों से बनेगा न्यू इंडिया,देशवासियों के मन में गन्दगी के लिए गुस्सा पैदा हो: पीएम मोदी  • आजम खान के करीबी समेत 57 अफसरों की योगी सरकार ने की छुट्टी • योगी कर रहे है पूजा, बाहर एक किसान ने की आत्मदाह की कोशिश, कर्ज से है परेशान 
सपा में सुलह की 8वीं कोशिश, अखिलेश-मुलायम के बीच बैठक जारी

लखनऊ: समाजवादी पार्टी में चल रहे वि‍वादों के बीच चुनाव आयोग में 'साइकिल' पर अपना दावा जताकर लौटे मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को कहा कि अगले चुनाव में अखिलेश यादव ही मुख्यमंत्री पद का चेहरा होंगे। हालांकि उन्होंने इस बात का जवाब नही दिया कि पार्टी में राष्ट्रीय अध्यक्ष की भूमिका कौन निभायेगा। साथ ही प्रत्याशियों को चुनाव चिह्न देने वाले फार्म पर किसके हस्ताक्षर दिखाई देंगे।माना जा रहा हैं इन सभी सवालों पर मंगलवार को अखिलेश के साथ होने वाली बैठक में चर्चा की जायेगी। बता दें कि सोमवार शाम दि‍ल्‍ली से लखनऊ लौटे मुलायम सिंह ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा था कि "समाजवादी पार्टी एक ही है। चुनाव के बाद अगले सीएम अखिलेश यादव ही रहेंगे। इसमें कोई कन्‍फ्यूजन नहीं है। समाजवादी पार्टी ना टूटी है और ना टूटेगी। 

अब तक सुलह की 7 कोशिशें हो चुकी है नाकाम

 

-आपको बता दें कि सुलह की पहली कोशिश 31 दि‍संबर 2016 को की गई। जब मुलायम के साथ हुई मीटिंग में अखिलेश ने अपनी 4 शर्तें रखी थीं।

-जिसमें पहली शर्त में अखिलेश ने अमर सिंह को पार्टी से बर्खास्त करने के लिए कहा था।

-दूसरी शर्त में अखिलेश ने कहा कि शिवपाल यादव को राष्ट्रीय राजनीति में भेजा जाए।

-तीसरी शर्त में कहा गया कि टिकट बंटवारा मुलायम और अखिलेश की सहमति से हो। इसमें किसी तीसरे की दखलंदाजी न हो।

-चौथी शर्त में मांग की गई कि टीम अखिलेश के बर्खास्त लोगों को भी पार्टी में वापस लिया जाए।

-हालांकि अखिलेश की ये सभी शर्तें नहीं मानी गईं।

-जबकि सुलह की दूसरी कोशिश 2 जनवरी को की गई। जब सपा के सिंबल पर दावेदारी के लि‍ए शि‍वपाल और अमर सिंह के साथ मुलायम चुनाव आयोग पहुंचे।

-3 जनवरी को अपनी तीसरी सुलह की कोशिश के चलते अखि‍लेश यादव ने मुलायम सिंह के घर पर जाकर मुलाकात की, पर बात नहीं बनी। 

-बता दें कि 4 जनवरी को हुई अपनी चौथी सुलह की कोशिश में आजम के साथ मुलायम की 5 घंटे तक बातचीत हुई, लेकि‍न फिर भी कोई समझौता नहीं हो सका। 

- लेकिन पांचवी बार ये कोशिश 5 जनवरी को की गई। जब देर रात तक करीब 4 घंटे मुलायम, शि‍वपाल और अमर सिंह के बीच दि‍ल्‍ली में बातचीत हुई। 

- 6 जनवरी को छठी बार सुबह अखि‍लेश यादव से शि‍वपाल और अमर ने मुलाकात की।लेकिन कोई फैसला नही हो पाया।

- सातवीं बार 8 जनवरी रविवार की सुबह अखिलेश ने मुलायम को फोन किया था। मुलायम ने अखिलेश के सामने दो शर्तें रखीं थीं। पहली की वे नेशनल प्रेसिडेंट बने रहेंगे और दूसरी शिवपाल प्रदेश अध्‍यक्ष बने रहेंगे। सूत्रों के अनुसार ये दोनों ही शर्तें अखिलेश ने नहीं मानी थी।

- बहरहाल आज आठंवी बार 10 जनवरी को अखिलेश एक बार फिर मुलायम के घर उनसे मिलने पहुंचे हैं।

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 
  • samachar plus
  • live-tv-uttrakhand
  • live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

  • आलोक वर्मा

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    23 सालों से पत्रकारिता में सक्रिय। दैनिक जागरण, करंट न...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: