Headline • BJP की महिला विधायक की गाड़ी का हुआ एक्सीडेंट, MLA समेत 3 लोग घायल • Baahubali 2: आज खत्म हो जाएगा सस्पेंस, 9000 स्क्रीन पर हो रही है रिलीज • STF का खुलासा, लखनऊ में डिवाइस लगा हो रही थी पेट्रोल की चोरी, 7 पेट्रोल पंप हुए सीज• अब पत्थरबाजों को जवाब देंगी बेटियां, 1000 महिला पुलिसकर्मियों की होगी भर्ती• बिलखते हुए बोली शहीद की मां- मोदी जी बताएं कब तक माताएं अपने बेटों की शहादत देती रहेंगी• JEE Main-2017: कंपाउंडर के बेटे ने बनाया 'अकल्पनीय' रिकॉर्ड, 100 प्रतिशत मार्क्स लाकर रचा इतिहास• ये हैं लखनऊ के नए SSP, ईमानदार होने की वजह से पिछली सरकार कर देती थी तबादला• भारत ने बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-3 का किया सफल परीक्षण• सुप्रीम कोर्ट के फैसले का मायावती ने किया स्वागत, कहां- केंद्र सरकार तत्काल नियुक्ति करे लोकपाल • कांग्रेस ने कराई थी मेरी गिरफ्तारी, जान से मारने की रची गई थी साजिश: साध्वी प्रज्ञा • अयोध्या में इस साल दशहरे में फिर से शुरू होगी रामलीला: सीएम योगी • CM योगी के साथ विनोद खन्ना की फोटो हुई वायरल, गोरखपुर आकर जमकर किया था प्रचार• सिरफिरे युवक ने युवती से कहा- बन जाओ दोस्त, युवती ने किया मना, फिर...• शिमला में बोलें PM मोदी- ''हवाई जहाज में हवाई चप्पल वाले भी दिखें'' • कार रोकने के लिए चिल्लाती रही छात्रा, दोस्त लूटता रहा अस्मत • नाबालिग से CRPF कर्ल्क ने किया रेप, पंचायत ने आरोपी से कराई पीड़िता की शादी• बीजेपी MP प्रियंका ने ASP को दी धमकी, कहा- ''सारी मलाई निकलवा लूंगी, खाल भी खिंचवा लूंगी''• CM योगी ने मंत्रियों को सौंपा जिले का प्रभार, इनको मिली जिम्मेदारी• बॉलीवुड एक्टर विनोद खन्ना का 70 साल की उम्र में निधन, लंबे समय से चल रहे थे बीमार • कानपुर के कैप्टन आयुष यादव जम्मू कश्मीर में शहीद, सुबह 4 बजे हुआ था आतंकी हमला• कुपवाड़ा में आतंकी हमले में 3 जवान शहीद, सुरक्षा बलों ने 2 आतंकियों को किया ढेर• बच्चों के लिए CM योगी का बड़ा फैसला, कानपुर-वाराणसी में खुलेंगे खेल कॉलेज• योगी कैबिनेट का बड़ा फैसला, 84 IAS अफसरों का तबादला, बदले गए 36 जिलों के DM • योगी सरकार का निर्देश, यूपी ATS ने शुरू किया 'घर वापसी' अभियान• CRPF के नए डीजी हुए राजीव राय भटनागर, 1983 बैच के हैं IPS आफिसर
सपा में सुलह की 8वीं कोशिश, अखिलेश-मुलायम के बीच बैठक जारी

लखनऊ: समाजवादी पार्टी में चल रहे वि‍वादों के बीच चुनाव आयोग में 'साइकिल' पर अपना दावा जताकर लौटे मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को कहा कि अगले चुनाव में अखिलेश यादव ही मुख्यमंत्री पद का चेहरा होंगे। हालांकि उन्होंने इस बात का जवाब नही दिया कि पार्टी में राष्ट्रीय अध्यक्ष की भूमिका कौन निभायेगा। साथ ही प्रत्याशियों को चुनाव चिह्न देने वाले फार्म पर किसके हस्ताक्षर दिखाई देंगे।माना जा रहा हैं इन सभी सवालों पर मंगलवार को अखिलेश के साथ होने वाली बैठक में चर्चा की जायेगी। बता दें कि सोमवार शाम दि‍ल्‍ली से लखनऊ लौटे मुलायम सिंह ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा था कि "समाजवादी पार्टी एक ही है। चुनाव के बाद अगले सीएम अखिलेश यादव ही रहेंगे। इसमें कोई कन्‍फ्यूजन नहीं है। समाजवादी पार्टी ना टूटी है और ना टूटेगी। 

अब तक सुलह की 7 कोशिशें हो चुकी है नाकाम

 

-आपको बता दें कि सुलह की पहली कोशिश 31 दि‍संबर 2016 को की गई। जब मुलायम के साथ हुई मीटिंग में अखिलेश ने अपनी 4 शर्तें रखी थीं।

-जिसमें पहली शर्त में अखिलेश ने अमर सिंह को पार्टी से बर्खास्त करने के लिए कहा था।

-दूसरी शर्त में अखिलेश ने कहा कि शिवपाल यादव को राष्ट्रीय राजनीति में भेजा जाए।

-तीसरी शर्त में कहा गया कि टिकट बंटवारा मुलायम और अखिलेश की सहमति से हो। इसमें किसी तीसरे की दखलंदाजी न हो।

-चौथी शर्त में मांग की गई कि टीम अखिलेश के बर्खास्त लोगों को भी पार्टी में वापस लिया जाए।

-हालांकि अखिलेश की ये सभी शर्तें नहीं मानी गईं।

-जबकि सुलह की दूसरी कोशिश 2 जनवरी को की गई। जब सपा के सिंबल पर दावेदारी के लि‍ए शि‍वपाल और अमर सिंह के साथ मुलायम चुनाव आयोग पहुंचे।

-3 जनवरी को अपनी तीसरी सुलह की कोशिश के चलते अखि‍लेश यादव ने मुलायम सिंह के घर पर जाकर मुलाकात की, पर बात नहीं बनी। 

-बता दें कि 4 जनवरी को हुई अपनी चौथी सुलह की कोशिश में आजम के साथ मुलायम की 5 घंटे तक बातचीत हुई, लेकि‍न फिर भी कोई समझौता नहीं हो सका। 

- लेकिन पांचवी बार ये कोशिश 5 जनवरी को की गई। जब देर रात तक करीब 4 घंटे मुलायम, शि‍वपाल और अमर सिंह के बीच दि‍ल्‍ली में बातचीत हुई। 

- 6 जनवरी को छठी बार सुबह अखि‍लेश यादव से शि‍वपाल और अमर ने मुलाकात की।लेकिन कोई फैसला नही हो पाया।

- सातवीं बार 8 जनवरी रविवार की सुबह अखिलेश ने मुलायम को फोन किया था। मुलायम ने अखिलेश के सामने दो शर्तें रखीं थीं। पहली की वे नेशनल प्रेसिडेंट बने रहेंगे और दूसरी शिवपाल प्रदेश अध्‍यक्ष बने रहेंगे। सूत्रों के अनुसार ये दोनों ही शर्तें अखिलेश ने नहीं मानी थी।

- बहरहाल आज आठंवी बार 10 जनवरी को अखिलेश एक बार फिर मुलायम के घर उनसे मिलने पहुंचे हैं।

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 
  • samachar plus
  • live-tv-uttrakhand
  • live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

  • आलोक वर्मा

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    23 सालों से पत्रकारिता में सक्रिय। दैनिक जागरण, करंट न...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: