Headline • अखिलेश ने बोला योगी सरकार पर तीखा हमला, कहा, राजधानी लखनउ में बीहड़ जैसी वारदातें हो रही है• बरेली: टीवी डिबेट में आने वाले मौलानाओं के खिलाफ जारी हुआ फतवा • राहुल बजाज ने की पीएम मोदी की जमकर तारीफ, कहा, अब हमारे पीएम बहुत अच्छे हैं• वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम : पीएम मोदी पहुंचे ज्यूरिख, थोड़ी देर में दावोस के लिए होंगे रवाना• कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो भारत दौरे पर आएंगे • मांग बढ़ने से सोना की कीमत में तेजी, चांदी में भी तेजी• पेट्रोल और डीजल के कीमतों ने तोड़ा रिकॉर्ड• एयरटेल लेकर आया धमाकेदार ऑफर, इतने रुपए में मिलेगा 28 जीबी डाटा• पाकिस्तानी गोलाबारी में शहीद हुए BSF जवान चंदन राय की अंतिम विदाई में उमड़ा जनसैलाब• अवार्ड मिला इरफान खान को बधाई इरफान पठान को, जवाब सुनकर आप भी हंसी नहीं रोक पाएंगे• 'पद्मावत' के विरोध में 350 feet ऊंचे टावर पर चढ़ा युवक, बोला -'जब तक फिल्म बैन नहीं होगी...'• सुरेश रैना ने आतिशी पारी खेल कर चयनकर्ताओं की नजरें खिंची, 59 गेंदों पर बनाए 126 रन • पद्मावत के विरोध की आग पहुंची सीएम के शहर गोरखपुर में, हाॅल मालिकों को दी चेतावनी• मुजफ्फरनगर दंगा:BJP नेताओं को बचाने में लगी योगी सरकार,खाप चौधरियों ने जताया विरोध,कहा....• पद्मावत विवाद : रणवीर सिंह ने 'खिलजी' को बताया शैतान,देखें तस्वीरें• इंडियन मुजाहिदीन को फिर से खड़ा करने आया था सुभान कुरैशी, मुठभेड़ के बाद गाजीपुर से चढ़ा हत्थे• एडीजी ब्रजराज मीणा को पड़ा दिल का दौरा, ICU में भर्ती• अमरोहा  से तीन संदिग्ध कश्मीरी युवक लिए गए हिरासत में, 26 जनवरी को लेकर कर रहे थे बातें• अखिलेश यादव ने किया खुलासा, डिंपल नहीं वे खुद लड़ेंगे कन्नौज से लोकसभा चुनाव • शोहदे के कारण रायबरेली की बहनों ने पढ़ाई छोड़ी, कार्रवाई नहीं होने पर पीएम को खून से खत लिखा• जल निगम भर्ती घोटाला : SIT के सामने पेश हुए आजम खान• बागपत में बच्चों के साथ हैवानियत जारी, वृद्ध ने किया 4 साल की बच्ची के साथ बलात्कार• दलित किशोरी से गैंगरेप कर बनाया वीडियो,जब वायरल हुआ तो...• गाजियाबाद : ट्रक और बस की टक्कर, दो लोगों की मौत• इंडियन मुजाहिदीन का टाॅप आतंकवादी सुभान कुरैशी गिरफ्तार, दिल्ली पुलिस को मिली कामयाबी

सपा में सुलह की 8वीं कोशिश, अखिलेश-मुलायम के बीच बैठक जारी

लखनऊ: समाजवादी पार्टी में चल रहे वि‍वादों के बीच चुनाव आयोग में 'साइकिल' पर अपना दावा जताकर लौटे मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को कहा कि अगले चुनाव में अखिलेश यादव ही मुख्यमंत्री पद का चेहरा होंगे। हालांकि उन्होंने इस बात का जवाब नही दिया कि पार्टी में राष्ट्रीय अध्यक्ष की भूमिका कौन निभायेगा। साथ ही प्रत्याशियों को चुनाव चिह्न देने वाले फार्म पर किसके हस्ताक्षर दिखाई देंगे।माना जा रहा हैं इन सभी सवालों पर मंगलवार को अखिलेश के साथ होने वाली बैठक में चर्चा की जायेगी। बता दें कि सोमवार शाम दि‍ल्‍ली से लखनऊ लौटे मुलायम सिंह ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा था कि "समाजवादी पार्टी एक ही है। चुनाव के बाद अगले सीएम अखिलेश यादव ही रहेंगे। इसमें कोई कन्‍फ्यूजन नहीं है। समाजवादी पार्टी ना टूटी है और ना टूटेगी। 

अब तक सुलह की 7 कोशिशें हो चुकी है नाकाम

 

-आपको बता दें कि सुलह की पहली कोशिश 31 दि‍संबर 2016 को की गई। जब मुलायम के साथ हुई मीटिंग में अखिलेश ने अपनी 4 शर्तें रखी थीं।

-जिसमें पहली शर्त में अखिलेश ने अमर सिंह को पार्टी से बर्खास्त करने के लिए कहा था।

-दूसरी शर्त में अखिलेश ने कहा कि शिवपाल यादव को राष्ट्रीय राजनीति में भेजा जाए।

-तीसरी शर्त में कहा गया कि टिकट बंटवारा मुलायम और अखिलेश की सहमति से हो। इसमें किसी तीसरे की दखलंदाजी न हो।

-चौथी शर्त में मांग की गई कि टीम अखिलेश के बर्खास्त लोगों को भी पार्टी में वापस लिया जाए।

-हालांकि अखिलेश की ये सभी शर्तें नहीं मानी गईं।

-जबकि सुलह की दूसरी कोशिश 2 जनवरी को की गई। जब सपा के सिंबल पर दावेदारी के लि‍ए शि‍वपाल और अमर सिंह के साथ मुलायम चुनाव आयोग पहुंचे।

-3 जनवरी को अपनी तीसरी सुलह की कोशिश के चलते अखि‍लेश यादव ने मुलायम सिंह के घर पर जाकर मुलाकात की, पर बात नहीं बनी। 

-बता दें कि 4 जनवरी को हुई अपनी चौथी सुलह की कोशिश में आजम के साथ मुलायम की 5 घंटे तक बातचीत हुई, लेकि‍न फिर भी कोई समझौता नहीं हो सका। 

- लेकिन पांचवी बार ये कोशिश 5 जनवरी को की गई। जब देर रात तक करीब 4 घंटे मुलायम, शि‍वपाल और अमर सिंह के बीच दि‍ल्‍ली में बातचीत हुई। 

- 6 जनवरी को छठी बार सुबह अखि‍लेश यादव से शि‍वपाल और अमर ने मुलाकात की।लेकिन कोई फैसला नही हो पाया।

- सातवीं बार 8 जनवरी रविवार की सुबह अखिलेश ने मुलायम को फोन किया था। मुलायम ने अखिलेश के सामने दो शर्तें रखीं थीं। पहली की वे नेशनल प्रेसिडेंट बने रहेंगे और दूसरी शिवपाल प्रदेश अध्‍यक्ष बने रहेंगे। सूत्रों के अनुसार ये दोनों ही शर्तें अखिलेश ने नहीं मानी थी।

- बहरहाल आज आठंवी बार 10 जनवरी को अखिलेश एक बार फिर मुलायम के घर उनसे मिलने पहुंचे हैं।

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: