Headline • निकाह के बाद दुल्हन को देखा तो उड़ गया होश, तलाक लेने पहुंच गया कोर्ट• पान की पीक थूकने से मना किया तो लाठी रॉड से पीट-पीट कर किया घायल, जाते वक्त फायरिंग से डराया• अखिलेश यादव ने दिए संकेत - हिन्दुत्व को आधार बनाकर 2019 का चुनाव लड़ेगी समाजवादी पार्टी• क्या करें जनता जब अधिकारी न सुने बात, भगवान को ज्ञापन सौंपा और सदबुद्धि देने की प्रार्थना की • कुख्यात उधम सिंह के नाम से मेरठ के कारोबारी में मांगी रंगदारी, फुटेज मिलने पर भी नहीं धरे गए आरोपी• उत्तराखंड कांग्रेस में कुनबा बढ़ाने से पहले ही टांग खिंचाई शुरू, ऐसे कैसे पूरा होगा मिशन 2019• स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने मांगा अखिलेश या मुलायम का खाली किया हुआ बंगला,मुख्य सचिव को लिखी चिट्टी • महबूबा सरकार से बीजेपी ने समर्थन वापस लिया, जम्मू-कश्मीर में गवर्नर रूल की संभावना बढ़ी• योगी कैबिनेट बैठक में बाबा रामदेव के फूड पार्क को को हरी झंडी• छोटे भाई की पत्नी पर थी बुरी नजर, भाई रोड़ा बना तो उसे रास्ते से हटा दिया• सरकारी स्कूल में फाइव स्टार टॉयलेट, महिला प्रधान ने  किया गांव का कायापलट, हर तरह की सुख सुविधाएं हैं• काशीपुर की बेटी दिखाएंगी अमेरिका में अपनी खेल प्रतिभा, टेबिल टेनिस प्रतियोगिता में लेंगी भाग• उन्नाव मामले में आईपीएस अधिकारी नेहा पांडे और रेडियोलॉजिस्ट डॉ. जौहरी से सीबीआई की पूछताछ• UP PCS : इलाहाबाद में हिन्दी की जगह बांट दिया निबंध का पेपर,परीक्षा रद्द • संजू : सलमान खान ने किया था कमेंट,रणबीर कपूर दिया ये जवाब• लखनऊ: दो होटलों में लगी भीषण आग, पांच की मौत,सीएम योगी ने जताया दुख• एक हजार रुपए नहीं दे पाया पिता तो नर्स ने हटा दिया ऑक्सीजन,नवजात की मौत• मेरठ में धर्म परिवर्तन की बड़ी साजिश का पर्दाफाश,बजरंगदल के कार्यकर्ताओं ने पादरी को जमकर पीटा• गोरखपुर: आज से दो दिवसीय दौरे पर CM योगी,जानें पूरा कार्यक्रम• मथुरा में तीन लोगों की गोली मारकर हत्या, मचा हड़कंप• लखनऊ: दो होटलों में लगी भीषण आग, अब तक पांच की मौत, कई की हालत गंभीर• BJP विधायक धीरज ओझा की गाड़ी को ट्रक ने चार बार मारी टक्कर, उनके भाई समेत चार लोग घायल• बॉलीवुड में फिलहाल काम नहीं करेंगे महेशबाबू, साउथ में इनके हैं करोड़ों फैन फॉलोअर्स• जर्मनी पर जीत के बाद मेक्सिको कप्तान ने कहा, हम इससे बड़ा सरप्राइज देंगे• रेस 3 को मिली सौ करोड़ क्लब में जगह, जानें ईद पर रिलीज हुई सलमान की फिल्मों ने की कितनी कमाई


नई दिल्लीः भारत की चेस प्लेयर सौम्या स्वामीनाथन ने अगले महीने ईरान में होने वाले चेस टूर्नामेंट से खुद को बाहर कर लिया है। सौम्या ने यह फैसला आयोजक देश ईरान की ओर से जारी हिजाब पहनने की अनिवार्यता के विरोध में लिया है। 

फेसबुक पर पोस्ट करते हुए चेस स्टार सौम्या ने लिखा कि हिजाब पहने की जबरदस्ती उनके मानवाधिकारों के खिलाफ है। साथ ही सौम्या ने इसे अपनी आजादी और धर्म के अधिकार का भी हनन बताया।

ये चेस टूर्नामेंट ईरान में 26 जुलाई से 4 अगस्त के बीच होने वाला है। सौम्या ने अपनी फेसबुक पोस्ट पर लिखा। मुझे जबरदस्ती हिजाब पहनने के लिए मजबूर नहीं किया जाना चाहिए।

ऐसा करना मेरे मानवाधिकार का उल्लंघन है। इसके साथ ही मेरे बोलने, सोचने और धर्म को मानने के अधिकारों का भी उल्लंघन हो रहा है। अपने अधिकारों की रक्षा करने के लिए मुझे ईरान नहीं जाना चाहिए।

सौम्या ने कहा कि ऑफिशियल चैम्पियनशिप का आयोजन करते हुए खिलाड़ियों के अधिकारों का बहुत कम ध्यान रखा जाता है।

सौम्या ने कहा, मै समझ सकती हूं कि आयोजक चाहते हैं कि खिलाड़ी किसी भी चैम्पियनशिप में अपने देश की औपचारिक यूनिफॉर्म के साथ ही देश का प्रतिनिधित्व करें, लेकिन इस तरह से किसी धर्म से जुड़ी पोशाक को जबरदस्ती पहनाने का कोई नियम नहीं है।

सौम्या ने बताया कि उन्हें इतने अहम टूर्नामेंट में हिस्सा न ले पाने का बहुत दुख है। उन्होंने कहा कि कुछ बातों के लिए कॉम्प्रोमाइज नहीं करना चाहिए।

ऐसा पहली बार नहीं है जब कोई महिला खिलाड़ी ईरान में होने वाले टूर्नामेंट से हिजाब पहनने की मजबूरी की वजह से बाहर निकली हो। इससे पहले भी 2016 में भारत की पिस्टल शूटर हिना सिंधू ने ईरान में होने वाले एशियन एयरगन शूटिंग चैम्पियनशिप से अपने आप को अलग कर लिया था।

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: