Headline • नशे में पुलिसकर्मी ने किया बवाल, सीएम अखिलेश को बता रहा था भाई• करन की किताब में हुए ऐसे खुलासे, जानें रणबीर और सनी ने कब खोई थी 'Virginity'• BJP-BSP के खिलाफ अखिलेश की नई पॉलिसी, ऐसे 'साइकिल' को दिलाएंगे जीत• बीजेपी के सबसे बुजुर्ग नेता हुए ND तिवारी, बेटे रोहित शेखर के साथ BJP का थामा दामन• शॉट लगाते समय बैट्समैन के हाथ से यूं छूटा बल्ला, विकेटकीपर का टूटा जबड़ा• कैशलेस इंडिया को लग सकता है झटका, ऑनलाइन ट्रांजेक्शन का गिरा ग्राफ• नाइजीरियन वायुसेना ने गलती से रिफ्यूजी कैम्प पर गिराए बम, 100 से ज्यादा की मौत• सेशंस कोर्ट ने सलमान खान को किया बरी, जेल जाने से बचे बॉलीवुड के 'दबंग'• कानपुर रेल हादसे के पीछे ISI का हाथ, जांच के बाद बिहार पुलिस का दावा• पाक मूल के ब्रिटिश बॉक्सर आमिर का सेक्स वीडियो लीक, वाइफ फरयाल पर लगे आरोप• 1.2 लाख स्क्वायर किमी में हुई थी MH-370 की खोज, बंद हुआ सर्च अभियान • कभी दिल्ली की सड़कों पर खींचते थे टांगा, अब कई CEO से ज्यादा पाते हैं सैलरी• शीना बोरा मर्डर मिस्ट्री: इंद्राणी-पीटर मुखर्जी की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट ने तय किए मर्डर के आरोप • 'दंगल' की बेटी के बचाव में आए आमिर, कहा- आप देश नहीं दुनिया के लिए रोल मॉडल• भतीजे से हार मानने को तैयार नहीं शिवपाल, EC के फैसले को कोर्ट में देंगे चुनौती!• दो दिन में गठबंधन का ऐलान करेंगे अखिलेश, कहा- थोड़ा इंतजार कीजिए • BJP ने UP में 149 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की, उत्तराखंड में 64 सीटों पर उतारे प्रत्याशी• अखिलेश करेंगे 'साइकिल' की सवारी, चुनाव आयोग में मुलायम को मिली शिकस्त• राहुल गांधी ने जनता को दिखाई अपनी गरीबी, फटी जेब के सहारे कांग्रेस की नैया• दीपिका के साथ विन डीजल की 'चाय पर चर्चा', प्रमोशन के लिए आए थे इंडिया• दीपिका के साथ विन डीजल की 'चाय पर चर्चा', प्रमोशन के लिए आए थे इंडिया• मैदान पर धोनी से हुई ऐसी भूल, कैप्टन के अंदाज में किया रिएक्ट• कार्यकर्ताओं के बीच इमोशनल हुए मुलायम, कहा- मुस्लिमों को पार्टी से दूर कर रहा अखिलेश• J&K: अनंतनाग में सुरक्षाबलों ने हिजबुल मुजाहिदीन के 3 आतंकियों को मार गिराया• उत्तराखंड चुनाव: कांग्रेस के यशपाल आर्य बीजेपी में हुए शामिल, अमित शाह ने कराई एंट्री
जेएनयू का नाम बदल कर सुभाष चंद्र बोस यूनिवर्सिटी हो : सुब्रमण्यम स्वामी

कानपुर- भाजपा नेता सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने दिल्ली की जवाहर लाल यूनिवर्सिटी (जेएनयू) का नाम बदलकर सुभाष चन्द्र बोस यूनिवर्सिटी रखे जाने की मांग रखी है। जेएनयू मामले पर बोलते हुए सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने जेएनयू को देश के खिलाफ साजिश करने वालों का अड्डा बताया है।

स्‍वामी ने कहा कि जेएनयू में जो कुछ हुआ उससे दुख है। जएनयू को चार महीने के लिए बंद कर देना चाहिए और वहां तलाशी अभियान चलाना चाहिए। उन्‍होंने कहा, जेएनयू देशद्रोह का केंद्र बन गया है। देश के कई हिस्‍सों में देशद्रोह की बातें होती हैं, लेकिन सबसे ज्यादा जेएनयू में है।

मीडिया में आई खबरों के अनुसार, बीजेपी नेता स्‍वामी ने कानुपर के वीएसएसडी कॉलेज में "वैश्विक आतंकवाद" विषय पर चर्चा के दौरान कहा, जेएनयू का नाम बदल कर सुभाष चंद्र बोस के नाम पर रखा जाना चाहिए।  क्योंकि जवाहरलाल नेहरू इतने पढ़े लिखे नहीं थे कि उनके नाम से किसी विश्वविधालय का नाम रखा जाए। उन्होंने आरोप लगाया कि कश्मीर में धारा 370 नेहरू के चलते ही लगी जबकि डॉ बाबा साहेब अंबेडकर ने इसका विरोध किया था।

कश्मीर मुददे पर उन्होंने कहा कि यह भारत का अभिन्न अंग है, कश्मीर का जो हिस्सा पाकिस्तान के कब्जे में है उसे वापस लेने की कोशिश की जानी चाहिये और कश्मीरी पंडितो की घर वापसी होनी चाहिये। इसके लिए एक फॉर्मूला सुझाते हुए स्वामी ने कहा कि कश्मीरी पंडितों के घरों में पूर्व सैनिकों को हथियारों के साथ कुछ समय के लिये रहने देना चाहिये और कुछ साल बाद वहां कश्मीरी पंडितो को बसा देना चाहिए। 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 
  • samachar plus
  • live-tv-uttrakhand
  • live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

  • आलोक वर्मा

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    23 सालों से पत्रकारिता में सक्रिय। दैनिक जागरण, करंट न...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: