Headline • महेंद्र सिंह धोनी ने कहा रिटायर होने तक नहीं बताउंगा अपना सक्सेस मंत्र• अक्षय कुमार ने लिया प्रधानमंत्री का इंटरव्यू, पीएम ने जीता यूजर्स का दिल • अफ्रीका में लॉन्‍च किया दुनिया का पहला मलेरिया का टीका• CJI के खिलाफ आरोप: CBI, IB और दिल्ली पुलिस के ऑफिसर तलब• श्रीलंका में सीरियल ब्लास्ट की जिम्मेदारी, आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने ली• सीएम सहित रेलवे स्टेशनो को मिली आतंकवाद की धमकी• धोनी की बैटिंग देख विराट बोले- धोनी ने तो हमें डरा ही दिया था• पीएम मोदी के अनुरोध पर शाहरुख खान ने एक मजेदार विडियो बना लोगों से की वोटिंग की अपील • श्रीलंका सीरियल ब्लास्ट: श्रीलंका में अब तक बम धमाकों में मरने वालों की संख्‍या 290 पहुंची • राहुल गांधी का ऐलान सरकार बनी तो राष्ट्रीय बजट के साथ किसानों के लिए करेंगे दूसरा बजट पेश• चुनावी माहौल में ट्विंकल खन्ना ने ली अरविंद केजरीवाल पर चुटकी• बाटला हाउस का जिक्र कर पीएम मोदी ने सादा कांग्रेस पर निशाना • यूएई में आज पहले हिंदू मंदिर का शिलान्यास समारोह• रेल हादसा: कानपुर के पास पूर्वा एक्सप्रेस पटरी से उतरी 100 के करीब लोग घायल • लोकसभा चुनाव 2019: बसपा सुप्रीमो मायावती ने मुलायम के बाद अब आजम खां को दिया समर्थन • विराट सेना' का आज कोलकाता से 'करो या मरो' का मुकाबला• कलंक' स्टार वरुण धवन ने कहा, मुझे असफलता से डर नहीं लगता• सूडान में कैदियों की रिहाई और कर्फ्यू समाप्‍त होने पर अमेरिका ने कि प्रशंसा• 24 साल बाद एक मंच पर दिखें माया-मुलायम• रूस के वैज्ञानिकों का दावा 42 हजार साल पहले दफन घोड़े में मिला खून, अब बनाएंगे क्‍लोन • दिनोंदिन आलिया भट्ट और रणबीर कपूर का मजबूत होता रिश्‍ता रह सकते है लिव-इन पर • पश्चिम बंगाल में वोटिंग के दौरान बीजेपी-टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच हुई हिंसा • लीबिया की राजधानी त्रिपोली में गृहयुद्ध की जंग में 205 की मौत, 913 के करीब घायल • लोकसभा चुनाव 2019 के दूसरे चरण की 95 सीटों पर वोटिंग जारी• PM मोदी की फिल्‍म 'पीएम नरेंद्र मोदी' का ट्रेलर यूट्यूब से हटा


 झांसीः शिकायत लेकर एसएसपी कार्यालय जाने वाले फरियादियों के साथ किस प्रकार का व्यवहार होता है, इसका उदाहरण उस समय देखा गया जब एक घायल पूर्व पार्षद को भगा दिया गया।

पूर्व पार्षद का कहना है कि वह एसएसपी से न्याय मांगने गया हुआ था। जहां एसएसपी की मौजूदगी में पीआरओ ने दुत्कार और अभद्रता करते हुए उसे भगा दिया।

परेशान पूर्व पार्षद अपने परिजनों के साथ शहर के प्रमुख चौराहे पर धरने पर बैठ गया। इसके बाद हरकत में आई पुलिस ने उसकी मनुहार करती नजर आई। 

झांसी के इलाईट चौराहे पर धरना दे रहे पूर्व पार्षद वीरेन्द्र खटीक को 25 दिन पहले रात्रि के समय हंसारी से घर जाते समय हमलावरों ने गोली मारकर घायल कर दिया था। जिसकी पूर्व पार्षद ने थाने में शिकायत करते हुए नामजद मामला दर्ज कराया था।

पूर्व पार्षद वीरेन्द्र खटीक का आरोप है कि नामजद मामला दर्ज होने के बाद भी पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं कर रही है। जिस कारण आरोपी उसे धमका रहे हैं। घबराकर वह परिजनों के साथ किसी प्रकार एसएसपी के पास गया हुआ था। जहां उसने आरोपियों को पकड़ने की मांग की।

इस पर एसएसपी ने किसी को फोनकर कपड़े की जांच की बात की। उसका गुनाह बस इतना हो गया कि उसने यह कह दिया कि कपड़े की जांच क्या होती साहब, हम स्वयं आये हुए है। बस फिर क्या कि पहले उन्होंने उसके साथ अभद्रता की। इसके बाद उनके पीआओ ने दुत्कार और अभद्रता करते हुए धक्का देकर बाहर कर दिया। 

संबंधित समाचार

:
:
: