Headline • पाकिस्तान में इस क्रिकेटर को विराट कोहली के नाम से पुकारते है• पुलिस ट्रेनिंग सेंटर पर हुए आतंकी हमले में 15 की मौत, 40 घायल• संगीत सोम के बयान पर कमेंट करने से पल्ला क्यों झाड़ रहे है बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष• नवाज शरीफ के दामाद को नेशनल असेंबली से किया गया सस्पेंड, जानें क्या है वजह• पुर्तगाल के जंगलों में लगी भीषण आग, जिंदा ही जलते दिखे लोग• दीपिका ने खोला राज, क्यों नहीं कर पाईं ग्रेजुएशन• धनतेरस पर यहां खरीदी जाती है चांदी की मछली, जानें क्या है वजह• 4 दिन तक बच्ची को नहीं मिला खाना तो भूख से तोड़ दिया दम• आधार से लिंक नहीं होने से राशन नहीं मिला, बच्ची भात-भात पुकारते पुकारते मर गई• भ्रूण लिंग जांच करते हुए पकड़ा तो आरोपी डॉक्टर ने कहा, मेयर पद का दावेदार था इसलिए बदनाम किया • पीएम मोदी के सपने को इस छात्र ने किया साकार, तीन महीने में बना दी बुलेट ट्रेन• डैमेज कंटृोल के लिए योगी 26 को जाएंगे आगरा, करेंगे ताज का दीदार• चलती ट्रेन में नशे में धुत आर्मी के जवान ने की महिला के साथ छेड़छाड़...• 'मुल्क' में ऐसे दिखेंगे ऋषि कपूर, सामने आया First Look• गजेंद्र भाटी हत्याकांड : पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा ने कोर्ट में किया सरेंडर• अयोध्या में बनने वाली भगवान राम की मूर्ति को लेकर शिया वक्फ बोर्ड ने किया ये बड़ा ऐलान• बयान दर्ज करने के बहाने सीओ के पेशकार ने महिला से की अश्लील हरकत, फिर मांगी माफी, ऑडियो वायरल• जब गोल दागने के बाद भांगड़ा करने लगे विराट कोहली, ऐसे मनाया जीत का जश्न• 3000 मदरसों पर चल सकता है योगी सरकार का डंडा, तय मियाद तक नहीं किया डेटा आॅनलाइन• पंजाब के लुधियाना में RSS के वरिष्ठ कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या• गायत्री प्रजापति गैंगरेप मामले में कोरे कागज पर करवाया था पीडिता का हस्ताक्षर, सरकारी वकील हटे• सोम के बयान का समर्थन, बीजेपी प्रवक्ता बोले-अंग्रेजों से ज्यादा क्रूर और उत्पाती थे मुगल • अज्ञात बदमाशों ने मारी बाइक सवार को गोली, इलाज के दौरान अस्पताल में तोड़ा दम• किसान से बाइक लूटकर भाग रहे बदमाशों को पुलिस ने घेरा, मुठभेड़ कर पकड़ा इनामी बदमाश• कानपुर. पुलिस ने मारा कारोबारी के दफ्तर में छापा, 4.33 करोड़ रुपए बरामद

बड़ा खुलासा: गायत्री प्रजापति की बेल के लिए हुई थी 10 करोड़ की डील, सीनियर जज भी शामिल!

लखनऊ. रेप के आरोपी सपा के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के बेल के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। जानकारी के मुताबिक गायत्री प्रजापति की जमानत के लिए करीब 10 करोड़ रुपये की डील हुई थी। बताया जा रहा है कि करोड़ों रुपये की हुई इस घूसखोरी में पॉस्को कोर्ट के जज ओपी मिश्रा और तीन वकील शामिल हैं। 

 

जांच में हुआ खुलासा 

-यह चौंकाने वाला खुलासा इलाहाबाद हाई कोर्ट की एक जांच में हुआ है।

-टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर की मुताबिक रिपोर्ट में बताया गया कि 10 करोड़ की डील में तीन वकीलों को 5 करोड़ और ओपी मिश्रा को 5 करोड़ रुपये दिए गए हैं।

-साथ ही ओपी मिश्रा के रिटायरमेंट से ठीक तीन हफ्ते पहले पॉस्को कोर्ट का जज नियुक्त किया जाना भी सवालों के घेरे में है। 

-7 अप्रैल को उनके जज बनने के बाद प्रजापति को 25 अप्रैल को जमानत मिल गई। 

-रिपोर्ट के मुताबिक जज और तीनों वकीलों की मीटिंग भी कई बार हुई। जिसके बाद प्रजापति को जमानत दे दी गई।

 

बड़े भ्रष्टाचार की बात सामने आई है

-बताया जा रहा है कि भ्रष्टाचार के आरोप और शिकायतों के बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस दिलीप बी भोसले ने प्रजापति को जमानत मिलने की जांच के आदेश दिए थे। 

-हाईकोर्ट की जांच में इस तरह के संवेदनशील मामलों की सुनवाई और अदालतों में जजों की पोस्टिंग में बड़े भ्रष्टाचार की बात सामने आई है। 

-वहीं इलाहाबाद हाई कोर्ट के जज जस्टिस भोसले ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि अतिरिक्त जिला और सेसन जज ओपी मिश्रा को उनके रिटायर होने से ठीक तीन सप्ताह पहले ही पोक्सो जज के रूप में तैनात किया गया था। 

-इसके बाद जज ओपी मिश्रा ने ही गायत्री प्रजापति को 25 अप्रैल को रेप के मामले में जमानत दी थी। 

-उन्होंने ओपी मिश्रा की नियुक्ति में नियमों की अनदेखी करने का भी आरोप लगाया। 

-जस्टिस भोसले ने कहा कि मिश्रा की नियुक्ति एक काबिल जज को हटाकर की गई थी। 

 

 

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: