Headline • ब्रिटिश संसद ने कहा- भारत का हिस्सा है गिलिगिट-बाल्टिस्तान, पाक ने कर रखा है जबरन कब्जा • मुंह में गुटखा दबाकर पुलिसकर्मियों को दिला रहे थे सफाई की शपथ, कहा- मैंने झाड़ू लगाने के लिए वर्दी नहीं पहनी है • छोटी-छोटी चीजों से बनेगा न्यू इंडिया,देशवासियों के मन में गन्दगी के लिए गुस्सा पैदा हो: पीएम मोदी  • आजम खान के करीबी समेत 57 अफसरों की योगी सरकार ने की छुट्टी • योगी कर रहे है पूजा, बाहर एक किसान ने की आत्मदाह की कोशिश, कर्ज से है परेशान • 'जो गौ-माता को माता न मानते हों, उनकी हत्या करते हों, ऐसे लोगों के हाथ पैर तुड़वा दूंगा'• होटल में युवती के साथ रेप, भागकर पहुंची मंदिर, फिर...• एक्शन में त्रिवेन्द्र रावत, NH घोटाले का किया पर्दाफाश, सात अधिकारी निलंबित• विकास सबका होगा, तुष्टीकरण किसी का नहीं होगा : CM योगी• PM ने की गुजरात और राजस्थान के सांसदों के साथ बैठक, कहा- चुनाव के लिए तैयार रहें• सपा सरकार में अवैध मांस खाते थे अखिलेश के 'शेर', अब तक हो चुकी है 10 की मौत• बैन किए गए पुराने नोटों को इस दिन तक करा सकते है जमा, जानें क्या है नियम • लाखों रुपये की नकदी के साथ पांच डकैत गिरफ्तार• इस फेमस एक्ट्रेस ने प्रोड्यूसर पर लगाया सेक्शुअल हैरेसमेंट का आरोप• इस पाकिस्तानी लड़की को पसंद है योगी, कहा- 'अब होगा UP का विकास'• योगी सरकार का चला डंडा, अनुशासनहीनता के मामले में IPS हिमांशु कुमार सस्पेंड• यूपी में हर तरह के अवैध कार्य बंद होने चाहिए: मोहम्मद कैफ • भगवा रंग में रंगा गोरखपुर, CM बनने के बाद आज पहली बार गोरखपुर जाएंगे योगी • शिया धर्मगुरु नई सरकार को लेकर बोले-जो जुल्म हमारे कौम पर पिछली सरकार में हुआ वह इस सरकार में नहीं होगा • FIR दर्ज होने के बाद फराह खान के पति ने बिना शर्त मांगी माफी, CM योगी पर किए थे टिप्पणी • अस्पताल में लगी आग, ICU में भर्ती मरीज सड़क पर तडपते रहे• एसिड अटैक पीड़िता के वार्ड में ली सेल्फी, 3 महिला पुलिसकर्मी सस्पेंड • बिजली विभाग के लेखाकार ने मांगी रिश्वत, रंगे हाथ गिरफ्तार• अपने से चार साल बड़ी लड़की के बच्चे का पिता बना यह 14 साल का लड़का, जानें दोनों में क्या है संबंध• एक्शन मोड में योगी सरकार : गंदगी देख भड़के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत, दफ्तर में लगाई झाड़ू
सपा में सुलह की 8वीं कोशिश, अखिलेश-मुलायम के बीच बैठक जारी

लखनऊ: समाजवादी पार्टी में चल रहे वि‍वादों के बीच चुनाव आयोग में 'साइकिल' पर अपना दावा जताकर लौटे मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को कहा कि अगले चुनाव में अखिलेश यादव ही मुख्यमंत्री पद का चेहरा होंगे। हालांकि उन्होंने इस बात का जवाब नही दिया कि पार्टी में राष्ट्रीय अध्यक्ष की भूमिका कौन निभायेगा। साथ ही प्रत्याशियों को चुनाव चिह्न देने वाले फार्म पर किसके हस्ताक्षर दिखाई देंगे।माना जा रहा हैं इन सभी सवालों पर मंगलवार को अखिलेश के साथ होने वाली बैठक में चर्चा की जायेगी। बता दें कि सोमवार शाम दि‍ल्‍ली से लखनऊ लौटे मुलायम सिंह ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा था कि "समाजवादी पार्टी एक ही है। चुनाव के बाद अगले सीएम अखिलेश यादव ही रहेंगे। इसमें कोई कन्‍फ्यूजन नहीं है। समाजवादी पार्टी ना टूटी है और ना टूटेगी। 

अब तक सुलह की 7 कोशिशें हो चुकी है नाकाम

 

-आपको बता दें कि सुलह की पहली कोशिश 31 दि‍संबर 2016 को की गई। जब मुलायम के साथ हुई मीटिंग में अखिलेश ने अपनी 4 शर्तें रखी थीं।

-जिसमें पहली शर्त में अखिलेश ने अमर सिंह को पार्टी से बर्खास्त करने के लिए कहा था।

-दूसरी शर्त में अखिलेश ने कहा कि शिवपाल यादव को राष्ट्रीय राजनीति में भेजा जाए।

-तीसरी शर्त में कहा गया कि टिकट बंटवारा मुलायम और अखिलेश की सहमति से हो। इसमें किसी तीसरे की दखलंदाजी न हो।

-चौथी शर्त में मांग की गई कि टीम अखिलेश के बर्खास्त लोगों को भी पार्टी में वापस लिया जाए।

-हालांकि अखिलेश की ये सभी शर्तें नहीं मानी गईं।

-जबकि सुलह की दूसरी कोशिश 2 जनवरी को की गई। जब सपा के सिंबल पर दावेदारी के लि‍ए शि‍वपाल और अमर सिंह के साथ मुलायम चुनाव आयोग पहुंचे।

-3 जनवरी को अपनी तीसरी सुलह की कोशिश के चलते अखि‍लेश यादव ने मुलायम सिंह के घर पर जाकर मुलाकात की, पर बात नहीं बनी। 

-बता दें कि 4 जनवरी को हुई अपनी चौथी सुलह की कोशिश में आजम के साथ मुलायम की 5 घंटे तक बातचीत हुई, लेकि‍न फिर भी कोई समझौता नहीं हो सका। 

- लेकिन पांचवी बार ये कोशिश 5 जनवरी को की गई। जब देर रात तक करीब 4 घंटे मुलायम, शि‍वपाल और अमर सिंह के बीच दि‍ल्‍ली में बातचीत हुई। 

- 6 जनवरी को छठी बार सुबह अखि‍लेश यादव से शि‍वपाल और अमर ने मुलाकात की।लेकिन कोई फैसला नही हो पाया।

- सातवीं बार 8 जनवरी रविवार की सुबह अखिलेश ने मुलायम को फोन किया था। मुलायम ने अखिलेश के सामने दो शर्तें रखीं थीं। पहली की वे नेशनल प्रेसिडेंट बने रहेंगे और दूसरी शिवपाल प्रदेश अध्‍यक्ष बने रहेंगे। सूत्रों के अनुसार ये दोनों ही शर्तें अखिलेश ने नहीं मानी थी।

- बहरहाल आज आठंवी बार 10 जनवरी को अखिलेश एक बार फिर मुलायम के घर उनसे मिलने पहुंचे हैं।

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 
  • samachar plus
  • live-tv-uttrakhand
  • live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

  • आलोक वर्मा

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    23 सालों से पत्रकारिता में सक्रिय। दैनिक जागरण, करंट न...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: