Headline • विराट और अनुष्का ने इटली में रचाई शादी, देखें हल्दी और शादी की वीडियो• विराट और अनुष्का ने ले लिए सात फेरे, औपचारिक घोषणा कभी भी• अखिलेश का पार्टी के अंदर 'सफाई अभियान' शुरू, प्रत्याशियों को हराने वालों की सपा से छुट्टी• बेबाक सोनम कपूर बोलीं, 'दादी कहती थीं पीरिएड्स के समय मंदिर व किचन में मत जाओ'• राहुल गांधी बने कांग्रेस अध्यक्ष, पूनावाला ने कहा, पार्टी के लिए काला दिन• मायावती बोलीं, समर्थकों के साथ बौद्ध बन जाऊंगी अगर बीजेपी और आरएसएस ने दलितों पर उत्पीड़न नहीं रोका• अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रही चीन, डोकलाम में फिर भेजे 1800 सैनिक• उत्तराखंड में आटो रिक्शा चलाकर बेहद तंगहाल जिंदगी गुजारते थे बुमराह के दादा • राहुल गांधी आज बन सकते हैं कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष• अतिथि देवोभवः ऐसे करती है पुलिस विदेश पर्यटकों से बर्ताव, लखनऊ से फोन जाने के बाद हुई कार्रवाई• योगी सरकार के मंत्री ने गैंगरेप को लेकर दिया शर्मनाक बयान, बोले- 'ऐसे हादसे होते रहते हैं'• अनोखी पहल: सामूहिक विवाह में दुल्हनों को दहेज में दिया शौचालय,दुल्हनें बोली- 'अब हमें शर्मिंदा नहीं होना पड़ेगा'• सनी लियोनी ने इंस्टा पर शेयर की ये फोटो, फैन्स बोले....• जम्मू-कश्मीर में आया भूकंप, रिक्टर स्केल पर तीव्रता रही 4.5 • शर्मनाक:मेरठ में कलयुगी बेटे ने 90 साल की बुजुर्ग मां को बेड़ियों में बांधा,पकड़ा गया तो बोला...• लखनऊ में ब्लड कैंसर पीड़िता से गैंगरेप, तीन आरोपी गिरफ्तार• मिर्जापुर में विदेशी सैलानियों के साथ छेड़छाड़ और मारपीट करने वाले 8 गिरफ्तार • मिर्जापुर सड़क हादसे में 10 की मौत, CM योगी ने किया मुआवजे का ऐलान • बाइक छोड़ने के लिए सिपाही ने चुपके से ली 200 रुपए की रिश्वत, वीडियो हो गया वायरल• महिला को पुलिस की मुखबिरी करना पड़ा भारी,बदमाशों ने घर में घुस कर मां-बेटी पर बरसाई गोलियां• गोरखपुर: CM योगी ने लगाया जनता दरबार,सुनी फरियादियों की समस्याएं• जायरा वसीम छेड़छाड़ केस : पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार, बोला- 'मैं तो...'• जम्मू कश्मीर: सुरक्षाबलों ने बारामूला और हंदवाड़ा में मुठभेड़ कर मार गिराए 5 आतंकवादी, एक को जिंदा पकड़ा• दो दिन पहले लापता हुए थे बुमराह के दादा, नदी के पास मिला शव • हैवानियत : हरियाणा में 5 साल की मासूम से रेप, प्राइवेट पार्ट में मिले लड़की के टुकड़े

आशीष नेहरा ने कराची में मोईन खान को नहीं बनाने दिए थे 6 बॉल पर 9 रन 

नई दिल्ली. टीम इंडिया के दिग्गज तेज गेंदबाज आशीष नेहरा ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संयास की घोषणा कर दिया है। भारत के सबसे अनुभवी तेज गेंदबाज आशीष नेहरा अपने जीवन का अंतिम अंतरराष्ट्रीय मैच एक नवंबर को न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने घर दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर होने वाले टी-20 मैच के रूप में खेलेंगे। इसके बाद 38 साल के नेहरा किसी भी प्रारूप में भारतीय जर्सी में नजर नहीं आएंगे। आइए जानते है नेहरा के पांच बेहतरीन रिकॉर्ड के बारे में... 

 

1999 में किए थे डेब्यू 

-टीम इंडिया के स्टार गेंदबाज आशीष नेहरा 1999 में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट में और 2001 में जिंबाब्वे के खिलाफ वन डे में डेब्यू किया था।

-बहुत जल्दी ही नेहरा नई गेंद के बेहतरीन गेंदबाज माने जाने लगे, लेकिन लगातार चोटों ने उनके करियर को तेजी से आगे नहीं बढ़ने दिया।

-12 सर्जरी झेल चुके नेहरा के लिए खुद को प्रेरित करना और दोबारा कमबैक करना आसान नहीं था।

-मगर 38 साल की उम्र में नेहरा ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टी-20 में वापस लौटे।

-यह कम चौंकाने वाली बात नहीं थी। उनकी परफॉर्मेंस हमेशा की तरह ही शानदार रही।

 

15 साल बाद विदेशी जमीन पर दिलाई जीत 

-भारत 15 साल से विदेशी जमीन पर कोई सीरीज नहीं जीता था।

-उस समय 22 वर्षीय नेहरा का यह पहला विदेशी दौरा था।

-पहली पारी में नेहरा ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 23 रन पर 3 विकेट लिए।

-जिंबाब्वे की पूरी टीम 173 रन पर आउट हो गई।

-भारत को पहली पारी में 145 रनों की लीड मिल गईय़

-दूसरी पारी में भी नेहरा ने एंडी फ्लॉवर और डिओन इब्राहिम का विकेट निकाला।

-नेहरा की शानदार गेंदबाजी की बदौलत भारत यह टेस्ट जीत गया।

 

उल्टी होने के बाद भी नहीं माने हार 

-2003 के विश्व कप में डर्बन में हुए लीग मैच इंग्लैंड के खिलाफ नेहरा की घातक गेंदबाजी आज भी भारतीय फैंस की दिमागा में है।

-भारत ने पहले खेलते हुए 249 रन बनाए थे, लेकिन इस मैच में आशीष नेहरा ने शानदार तेज गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए 23 रन पर 6 विकेट निकाले।

-इस दौरान नेहरा लगातार 140 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से गेंदबाजी किए थे।

-इंगलैंड का कोई भी बल्लेबाज उनकी गेंदों को नहीं खेल पाया और भारत 82 रनों से यह मैच जीत गया। 

 

पाकिस्तान के खिलाफ किए थे शानदार गेंदबाजी 

-2009 के बाद से नेहरा जहीर खान के साथ भारत के मुख्य गेंदबाज बन चुके थे।

-हालांकि टीम में उनका आना जाना लगा हुआ था। लेकिन वन डे में टीम में उन्होंने अपनी जगह बना ली थी।

-2011 के विश्व कप में नेहरा ने केवल तीन मैच खेले।

-दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खराब प्रदर्शन के बावजूद उन्हें सेमीफाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ टीम में शामिल कर लिया गया।

-पाकिस्तान 260 रनों का बचाव कर रहा था। नेहरा को शुरू में विकेट नहीं मिले, लेकिन रन गति पर वह अंकुश लगाये रहे।

-उनका गेंदबाजी प्रदर्शन रहा- 10 ओवरों में 33 रन 2 विकेट।

 

मोइन खान को नहीं बनाने दिए थे 9 रन 

-टीम इंडिया 2004 में पाकिस्तान के दौरे पर गई हुई थी। वनडे सीरीज का पहला मैच कराची में खेला जा रहा था।

-जहां पर टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए राहुल द्रविड़ और विरेंद्र सहवाग के शानदार अर्धशतकीय पारी की बदौलत 349 रन का विशाल स्कोर खड़ा की थी।

-जिसके जवाब में पाकिस्तान के तरफ से इजमामूल हक के बेहतरीन शतकीय पारी के बदौलत पाकिस्तान जीत के करीब पहुंच गया था।

-आखिरी ओवर में पाकिस्तान को जीत के लिए 9 रन चाहिए था। 

-जिसके बाद भारतीय कप्तान सौरभ गांगूली ने भरोसेमंद गेंदबाज आशीष नेहरा को गेंदबाजी की जिम्मेवारी सौपी। 

-नेहरा ने शानदार गेंदबाजी करते हुए इस ओवप में महज 3 रन दिए थे, टीम इंडिया 6 रनों से जीत दर्ज की थी।  

 

 

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: