Headline • CRPF के जवानों पर नक्‍सलियों का हमला मुठभेड़ में एक जवान शहीद • गोवा के नए सीएम बने प्रमोद सावंत• टोटल धमाल'की छपर फाड कमाई अभिताभ बच्चन की 'बदला' भी टक्कर में • न्यूजीलैंड की मस्जिदों के हमलावर को कोर्ट में किया पेश • मनोहर पर्रिकर के निधन के कुछ घंटों बाद ही गोवा में सियासी घमासान तेज• भारतीय वनडे टीम से बाहर होने पर आर अश्विन की नाराजगी• इस बार भी वर्ल्‍ड कप से पहले सीरीज हारना क्‍या रहेगा टीम इंडिया के लिए लकी• 17 साल बाद चीन को लगा बड़ा झटका आर्थिक स्थिति बेहद कमजोर• एयर स्ट्राइक से पाकिस्तान के साथ साथ भारत के भी कु़छ नेता परेशान: राजनाथ सिंह• कंगना रनौत की नाराजगी पर आमिर खान ने दिया बयान• सुप्रीम कोर्ट ने आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मे क्रिकेटर श्रीसंत को दी राहत • न्यूजीलैंड की मस्जिदों में ताबातोड़ फायरिंग 40 की मौत 27 घायल • UNSC में मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने में चीन ने लगाया वीटो • SC ने शुरू की राफेल मामले पर सुनवाई• कुनबा बढ़ाने की रणनीति से सहमी कांग्रेस, नेताओं को दी चुप्पी साधने की हिदायत • आजम खान के खिलाफ योगी सरकार की बड़ी कार्यवाही • 15 मार्च से शुरू टेस्ट मैच की तयारी में लगी अफगानिस्तान आयरलैंड की टीम• लोकसभा चुनावों में लगी आदर्श आचार संहिता का सख्ती से पालन• आजादी के बाद आज भी ब्रिटिश काल की पेयजल पम्पिंग योजना पर निर्भर• बीजेपी सांसद के बगावती तेवर • कांग्रेस पर चढ़ा सपा- बसपा गठबन्धन के रिश्तों का रंग • भारत के सबसे बड़े नेटवर्क बीएसएनएल कंपनी पर संकट के बादल• कोलंबिया में विमान दुर्घटना में 12 लोगों की मौत • रमजान के दौरान मतदान पर चुनाव आयोग का जवाब • अंतरराष्ट्रीय उलमा कांफ्रेंस में विश्व शांति का संदेश


 फर्रुखाबाद: यहां के तहसीलदार सदर पर सोमवार को ग्रामीणों ने हमला बोल दिया। धक्का-मुक्की और हाथापाई के बीच ग्रामीणों ने तहसीलदार का मोबाइल छीन लिया और विवाद के फोटो डिलीट कर दिए।

प्रधान और प्रधान पति के साथ ग्रामीण काफी देर तक तहसीलदार और राजस्व टीम को बंधक बनाए रहे। काफी देर बाद पुलिस मौके पर पहुंची और सुरक्षा में तहसीलदार को लेकर आई। फिलहाल पांच ग्रामीणों को गिरफ्तार कर लिया गया।


सदर तहसील के ग्राम टिकुरियन नगला में चक रोड निकालने को लेकर चल रहे विवाद को निपटाने गए तहसीलदार भूपेन्द्र सिंह को ग्रामीणों ने घेर लिया और गाली गलौज के साथ धक्का- मुक्की की। लेखपाल और कानूनगो भी उनके साथ थे। ग्रामीणों ने पूरी राजस्व टीम को बंधक बना लिया।

उस समय स्थिति और विकट हो गयी जब प्रधान पति ने तहसीलदार का मोबाइल छीन कर विवाद के फोटो डीलीट कर दिए। पता लगा है ग्राम प्रधान  सुदेश के मकान से होकर रास्ता निकाल रहा था।

इसके लिए सुदेश के मकान की दीवार भी गिरा दी गयी थी।  सुदेश के भाई दिनेश की पत्नी विनीता ने बताया कि पूरे गांव के लोग पुराने रास्ते  की जगह चक रोड निकालने के लिए दे रहे हैं, पर प्रधान इसके लिए विवाद डाले हैं। सुदेश ने प्रधान द्वारा गिरवाई गयी दीवार में फिर ईटें चुनवा दी। इसी विवाद को निपटाने के लिए तहसीलदार गाँव गए थे। 

तभी प्रधान पति, प्रधान और अन्य ग्रामीणों ने तहसीलदार को घेर लिया और गलौज करने लगे।  ग्रामीणों के बीच बंधक बने तहसीलदार असहाय से दिख रहे थे। काफी देर बाद पहुंची पुलिस ने किसी तरह तहसीलदार को सुरक्षित निकाला। पुलिस ने पांच लोगों के गाँव से उठाया है।

संबंधित समाचार

:
:
: