Headline • परिवार के साथ माधुरी ने देखा ताज, ट्वीट कर कहा...• आज मेरठ आएंगे अखिलेश यादव, जानें क्या है कार्यक्रम • भगवान राम की आरती करना मुस्लिम महिलाओं को पड़ा भारी, जारी हुआ फतवा... इस्लाम से खारिज • पटाखा जलाने को लेकर हुआ विवाद, दर्जनों घायल, तीन की हालात गंभीर• हार्दिक पटेल को लगा बड़ा झटका, दो करीबी नेता बीजेपी में शामिल• अस्पताल में ऑक्सीजन न मिलने से मरीज ने तोड़ा दम, परिजनों ने...• PM मोदी आज करेंगे गुजरात का दौरा, विधानसभा चुनाव से पहले देंगे ये बड़ा तोहफा• कोयली देवी का गांव में रहना हुआ मुश्किल, गांव वालों ने...• जम्मू कश्मीर : सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ कर मार गिराया एक आंतकवादी• दुर्गा विसर्जन के दौरान SP ने बंद कराया डीजे, किन्नरों ने किया हंगामा• दबंगों ने बरसाई गोली, कपड़ा व्यापारी ने ऐसे बचाई अपनी जान• घर से बाहर बुलाकर बदमाशों ने युवक को मारी गोली, हत्या के बाद तमंचा...• सेक्स चेंज कर लड़का से लड़की बन गया, अब बिकनी पहनने से कतरा रही है गौरी• 'ये सिर्फ सेक्स की बात नहीं है, बल्कि ये पावर का मामला है और ये एक हकीकत है'• मेरा नाम सपना चौधरी, हरियाणे की हूं मैं कतई हार ना माणूं• बरामदे पर सोईं किशोरी से पहले नानी का हालचाल पूछा फिर बोलेरो में डालकर किया गैंगरेप• पहले गैंगरेप किया फिर नग्न कर हत्या करने के बाद बोरे में भरकर लाश फेंक दी• श्रीलंका को 5 विकेट से PAK ने दी मात, इस गेंदबाज ने तोड़ा वकार युनिस का रिकॉर्ड • पचा नहीं क्षेत्र में RSS का कैंप लगाना, दो लड़के आए और गोली मारकर कर दी हत्या• अब मऊ के शाही इमाम ने कहा, सोशल मीडिया में फोटो अपलोड करना इस्लाम के खिलाफ है• श्रीसंत को BCCI का जवाब, दूसरे देश से भी खेल पाएंगे क्रिकेट• भारतीय टीम के सामने गेंदबाजी करते दिखे अर्जुन तेंदुलकर, कोहली ने भी किया सामना• एयरेटल समेत कई कंपनिया टैरिफ प्लान्स की कीमतों में करेगी इजाफा • खुलासा: RBI ने बैंक खाते से आधार लिंक करने का नहीं दिया आदेश• प्रदूषण खत्म करने के लिए सरकार का बड़ा ऐलान, दौड़ेंगे बिना पैट्रोल-डीजल के वाहन


मुंबईः शेयरों से जुड़े विवादों के हल करने की संस्था सिक्यूरिटी अपैलेट ट्राइबुनल ने पार्श्वनाथ डेवलपर्स और कावित इंडस्ट्रीज के शेयरों पर सेबी की ओर से लगाई गई रोक को हटाने का फैसला दिया। ये दोनों भी उन 331 संदिग्ध मुखौटा कंपनियों में से हैं, जिनकी पहचान सरकार ने की है।
कंपनी की अपील पर सैट ने शेयर बाजारों में उनके शेयरों लगाई गई रोक को हटाने का निर्देश दिया है। सैट ने गुरुवार को इसी तरह अपने एक अंतरिम आदेश में जेकुमार इंफ्राप्रोजेक्ट्स और प्रकाश इंडस्ट्रीज पर लगायी गयी पाबंदी के खिलाफ स्थगन आदेश दिया था और शुक्रवार को उनके शेयरों में कारोबार फिर चालू हुआ।

क्या है मामला

-भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने सात अगस्त को शेयर बाजारों से इन 331 संदिग्ध मुखौटा कंपनियों के शेयरों के कारोबार पर अंकुश लगाने का निर्देश दिया था।
-इनमें से कुछ कंपनियों में कई जाने माने घरेलू और विदेशी निवेशकों ने निवेश किया हुआ है। इन 331 कंपनियों में से कई गंभीर धोखाधड़ी जांच कार्यालय (एसएफआईओ) और आयकर विभाग की जांच के घेरे में हैं।
-पार्श्वनाथ डेवलपर्स और कावित इंडस्ट्रीज ने सेबी के आदेश को सैट में चुनौती दी थी। इससे पहले आठ अगस्त को कई कंपनियों ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट भेजकर कहा था कि वे मुखौटा कंपनियां नहीं हैं। -उन्होंने सभी नियमों का अनुपालन किया है। इन 331 कंपनियों में से 160 से अधिक के शेयरों का एक्सचेंजों पर कारोबार होता है।
-सैट ने शुक्रवार को सुनवाई के बाद शेयर बाजारों को इन दोनों कंपनियों के शेयरों पर कारोबार की रोक हटाने का निर्देश दिया। सोमवार से इन कंपनियों के शेयरों में सामान्य तरीके से कामकाज दोबारा शुरू हो सकेगा.
-इसके साथ ही, सैट ने कहा कि कॉरपोरेट मामलों का मंत्रालय, सेबी और शेयर बाजार इन कंपनियों के परिचालन की जांच कर सकते हैं। कावित इंडस्ट्रीज गुजरात की खाद्य तेल विनिर्माता कंपनी है। वहीं, पार्श्वनाथ दिल्ली की रीयल एस्टेट कंपनी है।

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: