Headline • मुंबई के डोंगरी में 4 मंजिला इमारत गिरी; 2 की मौत, 50 से ज्यादा लोगो के मलबे में फसे होने की आशंका• IAS टोपर को किया ट्रोल, मिला करारा जवाब • देर रात देखिये चंद्रग्रहण का नजारा, लाल नज़र आएगा चाँद • बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने भारत के लिए खोले बंद हवाई क्षेत्र ।• महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर• कर्नाटक संकट : बागी विधायक बोले इस्तीफे नहीं लेंगे वापस• 'अब बस' जाने क्या है मामला• सबाना के सपोर्ट में स्वरा• कर्नाटक का सियासी संग्राम जारी • भारत और न्यूजीलैंड का 54 ओवर का खेल आज• भारत बनाम न्यूजीलैंड• कर्नाटक संकट का असर राज्यसभा में• अहमदाबाद की अदालत  में राहुल गांधी• व्हाइट हाउस में भरा बारिश का पानी • क्या अनुपमा परमेसरन को डेट कर रहे जसप्रीत बुमराह


शाहजहापुरः लोकसभा चुनाव में इस बार काफी तल्खी देखने को मिलेगी। इसका नजारा आज पीएम की रैली में देखने को मिला। पीएम मोदी ने किसानों के लिए शुरू की गई योजनाओं की जानकारी देने के साथ ही कांग्रेस, सपा और बसपा पर गिन-गिन के हमला किया। मोदी ने कि उनकी सरकार ने देश में यूरिया की कमी को दूर किया। पहले यूरिया अवैध तरीके से खेतों के बजाय फैक्ट्रियो   यों में चला जाता था। अब नीम कोटिंग से सारा यूरिया खेतों में जा रहा है। 

पुरानी सरकारों की गलत नीतियों से यूरिया की फैक्टियों को बदं कर दिया। हमारी सरकार गोरखपुर और सिंदरी में तेजी से काम कर रही है।  हमने फसलों की कीमत ही नहीं बढ़ाई बल्कि फसलों की खरीदारी में भी बढ़ोत्तरी की गई। इस बार पहले की तुलना में गेहूं छह गुणा और धान चार गुणा ज्यादा खरीदारी हुई है। 

मोदी ने राजीव गांधी के उस बयान का भी जिक्र किया जिसमें कहा गया था कि दिल्ली से एक रुपया भेजने पर गांव तक सिर्फ 15 पैसे पहुंचता था। मोदी ने कहा कि ये कौन लोग थे जो घिस-घिस कर 85 पैसे खा जाते थे। 

उन्होंने कहा कि मुफ्त की कमाई को बंद करने पर क्या वे मोदी सरकार पर विश्वास करेंगे। ये मोदी सरकार है जो अविश्वास प्रस्ताव को चूर-चूर कर देती हैं। 

जब हमने गांवों में बिजली पहुंचाई तो हमसे हिसाब मांगा गया। लगता है कि हमने गुनाह कर दिया। उन्होंने कहा कि गांवों में तो बिजली गई लेकिन घरों में नहीं गई। ये चार करोड़ घर आजादी के बाद से अंधेरे में कौन हैं। 

जिने लोगों ने चार करोड़ परिवारों को 18वीं शताब्दी में रखा उनसे जवाब मांगा जाए। गरीबों को बिजली का हक है या नहीं। बिजली मिलेगी तो उनके बच्चे आगे बढ़ेगे। 

हम बिजली लेकर आपके घर पहुंच रहे हैं और वे अविश्वास का कागज लेकर पार्लियामेंट में घूम रहे हैं। वे कुर्सी के लिए किस तरह दौड़ रहे है। प्रधानमंत्री की कुर्सी के लिए वे किसी को नहीं देखते हैं।

मेरा गुनाह है कि मैं भ्रष्टाचार, परिवारवाद के खिलाफ पूरी ताकत से लड़ रहा हूं। लाल बत्ती छिनकर अच्छा किया कि नहीं। इससे उनकी परेशानी होना स्वाभाविक है। ये आवाज दिल्ली तक पहुंच गई है। हमने पूछा कि भाई अविश्वास का कारण क्या है। कारण नहीं बता पाए तो गले पड़ गए। जनता से उलझना महंगा पड़ जाएगा। लेकिन उन पर जूनून सवार था कि मोदी को हटाना है। लेकिन मोदी के पास आपकी ताकत है। बाबा साहेब का संविधान है। उनके साथ दल दल है। जितना ज्यादा दल दल होगा कमल उतना ही ज्यादा खिलेगा।

 

संबंधित समाचार

:
:
: