Headline • यमुना ब्रिज से नदी में कूदी छात्रा, गोताखोरों ने ऐसे बचाई जान• परिवार के साथ माधुरी ने देखा ताज, ट्वीट कर कहा...• आज मेरठ आएंगे अखिलेश यादव, जानें क्या है कार्यक्रम • भगवान राम की आरती करना मुस्लिम महिलाओं को पड़ा भारी, जारी हुआ फतवा... इस्लाम से खारिज • पटाखा जलाने को लेकर हुआ विवाद, दर्जनों घायल, तीन की हालात गंभीर• हार्दिक पटेल को लगा बड़ा झटका, दो करीबी नेता बीजेपी में शामिल• अस्पताल में ऑक्सीजन न मिलने से मरीज ने तोड़ा दम, परिजनों ने...• PM मोदी आज करेंगे गुजरात का दौरा, विधानसभा चुनाव से पहले देंगे ये बड़ा तोहफा• कोयली देवी का गांव में रहना हुआ मुश्किल, गांव वालों ने...• जम्मू कश्मीर : सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ कर मार गिराया एक आंतकवादी• दुर्गा विसर्जन के दौरान SP ने बंद कराया डीजे, किन्नरों ने किया हंगामा• दबंगों ने बरसाई गोली, कपड़ा व्यापारी ने ऐसे बचाई अपनी जान• घर से बाहर बुलाकर बदमाशों ने युवक को मारी गोली, हत्या के बाद तमंचा...• सेक्स चेंज कर लड़का से लड़की बन गया, अब बिकनी पहनने से कतरा रही है गौरी• 'ये सिर्फ सेक्स की बात नहीं है, बल्कि ये पावर का मामला है और ये एक हकीकत है'• मेरा नाम सपना चौधरी, हरियाणे की हूं मैं कतई हार ना माणूं• बरामदे पर सोईं किशोरी से पहले नानी का हालचाल पूछा फिर बोलेरो में डालकर किया गैंगरेप• पहले गैंगरेप किया फिर नग्न कर हत्या करने के बाद बोरे में भरकर लाश फेंक दी• श्रीलंका को 5 विकेट से PAK ने दी मात, इस गेंदबाज ने तोड़ा वकार युनिस का रिकॉर्ड • पचा नहीं क्षेत्र में RSS का कैंप लगाना, दो लड़के आए और गोली मारकर कर दी हत्या• अब मऊ के शाही इमाम ने कहा, सोशल मीडिया में फोटो अपलोड करना इस्लाम के खिलाफ है• श्रीसंत को BCCI का जवाब, दूसरे देश से भी खेल पाएंगे क्रिकेट• भारतीय टीम के सामने गेंदबाजी करते दिखे अर्जुन तेंदुलकर, कोहली ने भी किया सामना• एयरेटल समेत कई कंपनिया टैरिफ प्लान्स की कीमतों में करेगी इजाफा • खुलासा: RBI ने बैंक खाते से आधार लिंक करने का नहीं दिया आदेश

आरुषि-हेमराज हत्याकांड: इलाहाबाद हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगी CBI 

इलाहाबाद. आरुषि-हेमराज हत्याकांड में गुरुवार को इलाहाबाद हाई कोर्ट ने राजेश और नुपुर तलवार को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया। हाई कोर्ट ने कहा कि आरुषि को मम्मी-पापा ने नहीं मारा। कोर्ट ने कहा कि ऐसे मामलों में सुप्रीम कोर्ट भी इतनी कठोर सजा नहीं देता है। वहीं इलाहाबाद हाई कोर्ट के द्वारा तलवार दंपति को दोषमुक्त किए जाने के बाद सीबीआई सुप्रीम कोर्ट जाने का फैसला की है। 

 

 क्या है कोर्ट का फैसला 

-इलाहाबाद उच्‍च न्‍यायालय ने नुपूर व राजेश तलवार की अपील मंजूर कर ली।

-हाई कोर्ट ने सीबीआई अदालत का आदेश पलटते हुए आरुषि-हेमराज मर्डर केस से दोनों को बरी कर दिया। 

-अदालत ने पाया कि परिस्थितियां और मौजूद सबूतों के आधार पर तलवार दंपति को दोषी नहीं ठहराया जा सकता। 

-इसलिए ‘शक का लाभ’ देते हुए दोनों को बरी कर दिया गया। 

-सीबीआई अदालत द्वारा दोषी करार दिए डेंटिस्ट दंपति राजेश और नुपुर तलवार ने फैसले के खिलाफ ऊपरी अदालत में अपील दाखिल की थी। 

-तलवार दंपति अभी गाजियाबाद की डासना जेल में बंद है। 

 

क्या था मामला 

-29 अगस्त 2016 को उच्च न्यायालय के एक आदेश के बाद नुपुर कुछ दिनों के लिए पैरोल पर रिहा की गई थी।

-सीबीआई कोर्ट ने नवंबर 2013 में तलवार दंपति को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। 

-अपील पर न्यायमूर्ति बी.के. नारायण एवं न्यायमूर्ति ए.के. मिश्र की खंडपीठ के समक्ष सुनवाई हो रही है। 

-इससे पहले, अदालत ने 11 जनवरी को अपना फैसला सुरक्षा कर लिया था। 

-हालांकि बाद में अदालत ने सीबीआई की कुछ दलीलों में विरोधाभास पाते हुए सुनवाई को फिर से शुरू करने का फैसला किया। 

-फिर अदालत ने अपना फैसला 12 अक्‍टूबर तक के लिए सुरक्षित रख लिया।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: