Headline • कश्मीर नीति पर मोदी सरकार ने मारी पलटी, अब हर एक से करेगी बातचीत, प्रतिनिधि नियुक्त• नोएडा में बुजुर्ग ने धारदार हथियार से युवती पर किया हमला, दिल्ली रेफर• पूर्व आपीएस ने टीम इंडिया पर कर दी ऐसी टिप्पणी कि हरभजन सिंह को करारा जवाब देना पड़ा• वारदात के आरोपी के फरार होने पर नाबालिग भाई को उठा लाई पुलिस, तीन दिन से थाने में बंद रखा• सहवाग ने रॉस टेलर को दर्जी कहा तो टेलर ने कहा, टाइम पर ऑर्डर देना तभी अगली दिवाली पर मिलेगी डिलीवरी• ताज महल परिसर के भीतर किया शिवचालिसा का पाठ, बताया ताज नहीं तेजोमहालय, हिरासत में• जमीन घोटाले में एडीएम घनश्याम सिंह निलंबित, तत्कालीन डीएम विमल शर्मा और निधि केसरवानी पर कार्रवाई नहीं होने से चर्चा तेज• ना नुकुर के बाद राहुल से मिले हार्दिक पटेल, लेकिन समर्थन देने का नहीं किया वादा• परिवार का 'ना' नहीं हो सका सहन, तो फांसी लगाकर प्रेमीजोड़े ने दे दी जान• OMG ! ये क्या कर रहे हैं करण और बिपाशा बसु...• भाई और पति के साथ इलाहाबाद पहुंची रानी मुखर्जी,पिता के अस्थि कलश को....• कौन दाढ़ी पहले बनाएगा, इसे लेकर भिड़े दो पक्ष, सांप्रदायिक हिंसा में तीन घायल• इस शो में राजकुमार राव को जाना पड़ा भारी, हुआ ये हादसा और...• गाजियाबाद हिंदू युवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष ने बच्चों से कराई फायरिंग, FIR दर्ज, लाइसेंस भी...• PM मोदी और स्मृति इरानी के खिलाफ की आपत्तिजनक टिप्पणी, पकड़ा गया तो ऐसे मांगी माफी• बसपा सुप्रीमो मायावती ने तैयार किया मास्टर प्लान, 24 अक्टूबर से... • शिंजो अबे फिर चुने गए जापान के प्रधानमंत्री, PM मोदी ने बधाई देते हुए कहा...• हार्दिक पटेल के साथी ने दिया BJP को झटका, 15 दिन बाद ही...• हेमा मालिनी बनी नानी, बेटी ईशा देओल के घर आई नन्हीं परी• मलाइका अरोड़ा ने इंस्टा पर शेयर की ये फोटो, लिखा...• BJP विधायक विक्रम सैनी का विवादित बयान, बोले- 'मजनुंओं के सिर पर उस्तरे...'• पति ने नहीं बनवाया शौचालय तो पत्नी ने छोड़ा ससुराल, बोली- 'अब यहां तभी आऊंगी जब...'• BF के लिए पत्नी ने की पति की हत्या, 7 साल के बेटे ने...• भाई ने किया 20 महीने की बहन से रेप, बच्ची की हालत नाजूक• पाटीदार नेता नरेंद्र पटेल ने किया दावा, पार्टी में शामिल होने के लिए BJP ने एक करोड़...


गोरखपुरः यहां के बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में आक्सीजन नहीं मिलने से 60 से ज्यादा बच्चों की मौत पर योगी सरकार ने लोगों को आंकड़ों में उलझाकर अपनी जिम्मेदारी से बचने की कोशिशें शुरू कर दी हैं। सरकार की ओर से बताया गया कि इस साल मरने वालों की संख्या पिछले वर्षों के मुकाबले कम है। प्रदेश सरकार ने शनिवार को कॉलेज के प्रिंसिपल राजीव मिश्रा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। बच्चों की मौत की खबरें आने के बाद भी कई घंटे तक गायब रहे स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने आज सरकार का बचाव किया सिद्धार्थनाथ ने पिछले तीन साल के दौरान इंसेफेलाइटिस में हुई मौतों का आंकड़ा पेश कर यह जताना चाहा कि योगी सरकार के कार्यकाल के दौरान मौतों की संख्या कम हुई है।



लीपापोती में लग गई सरकार


-64 से ज्यादा लोगों की मौतों के बाद योगी सरकार अब पूरे मामले में लीपापोती में लग गई है।
-स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह और आशुतोष टंडन ने पिछले तीन सालों के दौरान हुई मौतों का आंकड़ा पेश किया। दोनों ने कहा कि आक्सीजन की कमी से मौतें नहीं हुई है।
-गांव के लोग लास्ट स्टेज में बच्चों को अस्पताल लाते हैं। 2014 में कुल 567 मौतें हुई थीं। 2014 के अगस्त महीने में औसतन 22 मौतें हुई थी। 2015 में कुल 668 मौत हुई थी।
-2015 के अगस्त महीने में औसतन 22 मौत हुई। जबकि 2017 के अगस्त महीने में औसत 17 मौतें हुईं।
-योगी सरकार ने चीफ सेक्रेटरी की अध्यक्षता में एक जांच टीम बनाई गई है। जांच टीम की रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी।
-सीएम योगी नौ जुलाई और नौ अगस्त को कॉलेज आए थे लेकिन उन्हें गैस सप्लाई का भुगतान नहीं होने की जानकारी नहीं दी गई थी।
-दोनों मंत्रियों का कहना है कि उन्होंने साढ़े तीन चार घंटे हर पहलुओं को बारीकी से देखा है और उसे समझने का प्रयास किया।

ऑक्सीजन गैस की सप्लाई स्लो हुई थी

-यह सरकार संवेदनशील सरकार है। एक भी मौत होती है तो पता लगाया जाता है कि लापरवाही से हुई है या नहीं
-सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि सरकार घटना को ढकने की कोशिश नहीं कर रही है।
-दस तारीख को साढ़े पांच बजे ऑक्सीजन गैस की सप्लाई स्लो होने लगी थी। मीटर बीप करना शुरू कर दिया।
-गैस सप्लाई लो होने पर सिलेंडर लगाया जाता है। लेकिन यह व्यवस्था साढ़े ग्यारह बजे तक ही चली।
-साढे ग्यारह बजे से रात डेढ़ बजे तक गैस सप्लाई नहीं हो पाई। दो घंटे गैस सप्लाई बाधित थी। गैस सप्लाई बाधित होने से कोई मौत नहीं हुई है।
-गैस सप्लाई करने वाली कंपनी का भुगतान बाकी था। एक तारीख को पत्र लिखा। 5 तारीख को भुगतान कर दिया गया।

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: