Headline • मगरमच्छ से लड़ती रही बहादुर महिला, जीत के बाद घायल होकर लौटी घर• बंधक बनाकर 11 साल की नाबालिग से रेप, फरार हुआ आरोपी प्रिंसिपल • BJP लीडर के होटल में चलता था सेक्स रैकेट, आपत्तिजनक हालत में मिलीं लड़कियां • लोकसभा चुनाव-2019: अमित शाह ने रखा लक्ष्य- 360+• अंडर-19 वर्ल्डकप में ऑस्ट्रेलिया से होगा पहला मैच, जानें पूरा शेड्यूल• 15 KG से ज्यादा वजन रखने पर हवाई सफर होगा महंगा, देना पड़ेगा इतना चार्ज • VIDEO: 'न्यूटन' फिल्म में दिखेंगे एक्टर राजकुमार राव, रिलीज किया गया टीजर• 'टॉयलेट' के आगे 'बरेली की बर्फी' को भी नजरअंदाज कर सकते हैं लोग, जानें क्या है वजह• हामिद अंसारी पर बरसे BJP के सांसद साक्षी महाराज,बोले-'भारत में ही केवल मुसलमान सुरक्षित हैं'• खुशखबरी : दूध, शहद, बीज, अनाज और आटा, मछली अब सस्ती होंगी • महाभारत के कर्ण से हो सकती है बिल गेट्स की तुलना, दिया सबसे बड़ा दान• चीनी मीडिया ने भारत को बताया छोटी सोची वाला देश, कहा- 'सड़क से दोनों देश का भला होगा'• पी एल पुनिया को हुआ स्वाइन फ्ल्यू, तेजी से बढ़ रही है मरीजों की संख्या• इस शख्स की उम्र हर कोई बता रहा गलत, सच्चाई जान आप भी हो जाएंगे हैरान• औरैया जा रहे अखिलेश यादव को हिरासत में लेकर छोड़ा,लगाए ये आरोप • ओखला फोर्टिस अस्पताल के आईसीयू में तीन दिन से खराब है एअरकंडिशन• प्रियंका चोपड़ा ने लहराया तिरंगे जैसा स्कार्फ और गई TROLL• तो क्या अमित शाह ने 2019 की तैयारी शुरू कर दी है • केंद्र सरकार ने दिया बड़ा तोहफा, अब 1.5 लाख में नहीं बस इतने रुपए में बदल जाएंगे आपके घुटने• 81 लाख आधार कार्ड हुए बंद,ऐसे करें चेक कहीं आपका भी तो नहीं हो गया डिएक्टिवेट• बड़ी खबर: अखिलेश यादव को औरैया पुलिस ने हिरासत में लिया• अंकि‍ता लोखंडे ने इंस्टा पर शेयर की ये फोटो, फैन्स बोले....• यूपी का यह खिलाड़ी है प्रो कबड्डी में सबसे महंगा प्लेयर• श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराकर भारत मां की जय बोलने वाली महिला को सुरेश रैना ने किया Salute• जन्माष्टमी पर CM योगी आदित्यनाथ ने दिया ये बड़ा बयान, कहा सड़क पर ईद की नमाज..


गोरखपुरः यहां के बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में आक्सीजन नहीं मिलने से 60 से ज्यादा बच्चों की मौत पर योगी सरकार ने लोगों को आंकड़ों में उलझाकर अपनी जिम्मेदारी से बचने की कोशिशें शुरू कर दी हैं। सरकार की ओर से बताया गया कि इस साल मरने वालों की संख्या पिछले वर्षों के मुकाबले कम है। प्रदेश सरकार ने शनिवार को कॉलेज के प्रिंसिपल राजीव मिश्रा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। बच्चों की मौत की खबरें आने के बाद भी कई घंटे तक गायब रहे स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने आज सरकार का बचाव किया सिद्धार्थनाथ ने पिछले तीन साल के दौरान इंसेफेलाइटिस में हुई मौतों का आंकड़ा पेश कर यह जताना चाहा कि योगी सरकार के कार्यकाल के दौरान मौतों की संख्या कम हुई है।



लीपापोती में लग गई सरकार


-64 से ज्यादा लोगों की मौतों के बाद योगी सरकार अब पूरे मामले में लीपापोती में लग गई है।
-स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह और आशुतोष टंडन ने पिछले तीन सालों के दौरान हुई मौतों का आंकड़ा पेश किया। दोनों ने कहा कि आक्सीजन की कमी से मौतें नहीं हुई है।
-गांव के लोग लास्ट स्टेज में बच्चों को अस्पताल लाते हैं। 2014 में कुल 567 मौतें हुई थीं। 2014 के अगस्त महीने में औसतन 22 मौतें हुई थी। 2015 में कुल 668 मौत हुई थी।
-2015 के अगस्त महीने में औसतन 22 मौत हुई। जबकि 2017 के अगस्त महीने में औसत 17 मौतें हुईं।
-योगी सरकार ने चीफ सेक्रेटरी की अध्यक्षता में एक जांच टीम बनाई गई है। जांच टीम की रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी।
-सीएम योगी नौ जुलाई और नौ अगस्त को कॉलेज आए थे लेकिन उन्हें गैस सप्लाई का भुगतान नहीं होने की जानकारी नहीं दी गई थी।
-दोनों मंत्रियों का कहना है कि उन्होंने साढ़े तीन चार घंटे हर पहलुओं को बारीकी से देखा है और उसे समझने का प्रयास किया।

ऑक्सीजन गैस की सप्लाई स्लो हुई थी

-यह सरकार संवेदनशील सरकार है। एक भी मौत होती है तो पता लगाया जाता है कि लापरवाही से हुई है या नहीं
-सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि सरकार घटना को ढकने की कोशिश नहीं कर रही है।
-दस तारीख को साढ़े पांच बजे ऑक्सीजन गैस की सप्लाई स्लो होने लगी थी। मीटर बीप करना शुरू कर दिया।
-गैस सप्लाई लो होने पर सिलेंडर लगाया जाता है। लेकिन यह व्यवस्था साढ़े ग्यारह बजे तक ही चली।
-साढे ग्यारह बजे से रात डेढ़ बजे तक गैस सप्लाई नहीं हो पाई। दो घंटे गैस सप्लाई बाधित थी। गैस सप्लाई बाधित होने से कोई मौत नहीं हुई है।
-गैस सप्लाई करने वाली कंपनी का भुगतान बाकी था। एक तारीख को पत्र लिखा। 5 तारीख को भुगतान कर दिया गया।

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर



वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: