Headline • निकल गई विपक्षी एकता की हवा, मायावती नहीं होंगी रैली में शामिल• चीन की धमकियों का जवाब देने के लिए भारत सरकार ने शुरू की ये तैयारी • देश में जानबूझ कर कर्ज नहीं चुकाने वालों की संख्या बढ़ी• चीन ने किया युद्ध अभ्यास,राजनाथ बोले-दुनिया में कोई ऐसा मुल्क नहीं जो भारत को आंख उठाकर देखे• गांव में तनाव: धर्म परिवर्तन कर रचा ली शादी,'साजिद' से बन गया 'राज'• अब ऐप के जरिए पाइए तत्काल टिकट, सरकार ने बदलें ये नियम• दिल्ली के CM केजरीवाल ने कोर्ट में इनसे मांगी माफी, कहा बहकावे में लगा दिए थे आरोप• थियेटर में राष्ट्रगान बजने पर खड़े नहीं हुए कश्मीरी लड़के,पुलिस ने किया...• रायपुर मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से 3 बच्चों की मौत, CM रमन सिंह ने दिए जांच के आदेश• धक्क-धक्क गर्ल माधुरी दीक्षित ने इंस्टा पर शेयर की ये फोटो• मालेगांव ब्लास्ट: सुप्रीम कोर्ट ने कर्नल पुरोहित की अंतरिम जमानत मंजूर की• वरुण धवन ने जारी किया जुड़वा 2' का Poster,फिल्म में ऐसा होगा जैकलीन और तापसी का लुक• पापा शाहिद के साथ पार्क में खेल रही हैं मीशा• BSP के पोस्टर में अखिलेश और मायावती एक साथ,बसपा बोली-'फर्जी है'• बड़ी खबर: नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर ट्रेन में बम की सूचना,ट्रेनों को रोककर की जा रही जांच• बकरी के बच्चे को बचाने के लिए अजगर से भिड़ गए गांव वाले, खड़े होकर देखती रही पुलिस• तेज रफ्तार का कहर: अनियंत्रित होकर ट्रक में घुसी कार, चार की मौत• अमरोहा: पुलिस और बदमाशों के बीच हुई लाइव मुठभेड़, पकड़ा गया शातिर बदमाश• IND&SL: 216 रन पर ऑलआउट हुई श्रीलंका की टीम• इस बॉक्सर के पास है अरबों की संपत्ति, पार्टियों में यूं उड़ाता है पैसा• बचपन में ड्रग्स लेता था ये प्लेयर, AIDS को हराकर बना बेस्ट बॉडी बिल्डर• डोकलाम विवाद पर अमेरिकी कांग्रेस की रिपोर्ट, कहा- 'अभी और बढ़ेगा संघर्ष'• इस्लामिक स्टेट को हराने में जुटी इराकी सेना, इस शहर पर कब्जे के लिए शुरू किया ऑपरेशन• जानें क्यों नासा ने सेट किया 80 हजार फीट ऊंचा गुब्बारा• इलाहाबाद पुलिस की अनोखी पहल, 24 घंटे के लिए थानेदार बनी सौम्या, यूं काटा लोगों का चालान

दिल्ली वालों को यूनिवर्सिटी और कॉलेजो में 80% आरक्षण देने प्रस्ताव, NCR के छात्र नाराज़

नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यहां के छात्रों को सरकार द्वारा संचालित सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेजो में 80% आरक्षण देने का मन बना लिया है। इसके लिए दिल्ली के शिक्षा मंत्री को रास्ता निकालने के आदेश भी दे दिए है। इससे दिल्ली के छात्रों को दाखिले का अवसर मिलेगा, लेकिन दूसरे शहरों के छात्र इसको गलत ठहरा रहे हैं। वहीं नोएडा, ग़ाज़ियाबाद और गुड़गांव जैसे दिल्ली के आसपास के इलाके के छात्र बेहद नाराज है। ऐसा होने पर अपने भविष्य को लेकर सवाल खड़े कर रहे हैं।

नोएडा,ग़ाज़ियाबाद,गुड़गांव के छात्र हैं मायूस
-केजरीवाल के इस फैसले से दिल्ली से सटे जिलों के छात्र बेहद मायूस है।
-नोएडा दिल्ली से बेहद करीब है। यहां बड़े प्राइवेट कॉलेज तो है, पर उनकी महंगी फीस से ज्यादातर छात्र दाखिला नहीं ले पाते हैं।
-दिल्ली यूनिवर्सिटी से पढ़कर उनको बेहतर भविष्य की उम्मीद थी, जो ऐसा होने पर पूरी नहीं होगी।
-नोएडा से मेट्रो के जरिए आसानी से दिल्ली पहुंचा जा सकता है और दिल्ली यूनिवर्सिटी के कॉलेजों की फीस भी अन्य जगहों से कम है,
-बेहतर भविष्य का सपना लेकर हज़ारों छात्र दिल्ली पहुचते हैं।
-दिल्ली के मुख्यमंत्री के फैसले से गुड़गांव के छात्र बेहद नाराज हैं।
-अगर सभी राज्यों के कॉलेज में आरक्षण हो जाएगा, तो देश का कोई भी छात्र कहीं और दाखिला नहीं ले पाएगा।

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: