Headline • 17 साल बाद भारत की लड़की बनी मिस वर्ल्ड, मानुषी छिल्लर ने जीता खिताब• पहलवान सुशील कुमार ने नैशनल चैम्पियनशिप में जीता गोल्ड• Ind vs SL: भारत को इसलिए नहीं मिले 5 रन, गावस्कर ने साधा निशाना• 18 साल की उम्र में इस युवा खिलाड़ी ने किया ऐसा कमाल• J&K में लखवी के भतीजे समेत 6 लश्कर आतंकी ढेर, 1 जवान शहीद• शादी नहीं पहले करियर बनाना चाहते हैं देश के युवा- SURVEY• डिजिटल पेमेंट के लिए रहिए तैयार, GST में मिलेगी इतने की छूट!• शादियों के सीजन से पहले ज्वेलरी की कीमतों में इजाफा• जिस पिच पर भारतीय बल्लेबाज नहीं चले, उस पिच पर श्रीलंकाई बल्लेबाज चल पड़े• स्पा सैलून में चलती थी जिस्मफरोशी, सैलरी के लिए शारीरिक संबंध बनाने को किया मजबूर• सांप्रदायिकता की आग में झुलस रहा है श्रीलंका, इस शहर में कर्फ्यू• आतंकी हमले में 6 बच्चों की मौत, 4 दिन में 52 की गई जान• मेरठ में किसानों ने सीएम को दिखाए काले झंडे, बीजेपी वालों ने जमकर की पिटाई, देखें वीडियो• रणवीर सिंह ने शेयर की ये फोटो, लोग बोले- 'तुमसे बेहतर कोई नहीं'• सत्ता संभालते ही हमने कार्य करना शुरू कर दियाः योगी आदित्यनाथ• 'सऊदी अरब ने लेबनानी PM साद हरीरी को नहीं बनाया था बंधक'• इस असिस्टेंट कमिश्नर के लिए जान का खतरा बनी फिल्म पद्मावती, FB पर युवक ने कहा- 'टुकड़े-टुकड़े...'• बद्रीनाथ को बदरुद्दीन शाह कहने वाले मौलाना ने मांगी माफी, कहा बयान को वापस लेता हूं• पद्मावती विवाद : 'सत्ता में बैठी सरकार के संरक्षण में सबकी दुकान चल रही है...'• अखिलेश के गांव सैफई में पुलिस ने नाबालिगों पर आजमाई थर्ड डिग्री, वीडियो वायरल• BJP में शामिल होने के बाद बॉलीवुड एक्टर राहुल रॉय ने कहा- ' PM मोदी और अमित शाह देश को आगे...' • बीजेपी नेता की जनता को धमकी, जो वोट नहीं देगा, कोई नहीं करेगा उसकी मदद• बुमराह ने शेयर की ये फोटो, लड़कियां बोलीं- 'OMG !....'• पूजा-पाठ, शादी-ब्याह छोड़कर न्यायालय का चक्कर क्यों लगा रहे हैं कर्मकांडी पंडित• आपस में भिड़े बीजेपी और सपा के कार्यकर्ता, इस वजह से की तोड़फोड़ !

ट्रिपल तलाक के खिलाफ 10 लाख मुस्लिम महिलाओं ने किया हस्ताक्षर

नई दिल्ली. ट्रिपल तलाक का मामला अब तेज होता नजर आ रहा है। तीन तलाक और निकाह हलाला के खिलाफ देशभर से करीब 10 लाख मुस्लिमों ने हस्ताक्षर के जरिए विरोद्द दर्ज किया है। इस प्रथा को खत्म करने के लिए एक याचिका पर भारी संख्या में महिलाओं ने भी हस्ताक्षर की हैं। यह याचिका एमआरएम ने शुरु किया है। 

    क्या है तीन तलाक 

- कुरान के मुताबिक, किसी को पहली बार तलाक कहने के बाद एक व्यक्ति के पास तीन महीने का समय होता है।

- कि वो इस पर गौर करे, लेकिन इसके बाद अगर वो बाकी के दो 'तलाक' भी बोल देता है तो पति-पत्नी के बीच 'तलाक' को मंजूर मान लिया जाता है।

- ‘निकाह हलाला’ का मतलब है कि कोई व्यक्ति तीन तलाक के बाद किसी महिला से तबतक पुनर्विवाह नहीं कर सकता है।

- जबतक वह किसी अन्य व्यक्ति के साथ अपना वैवाहिक संबंध कायम नहीं कर लेती है और उसके नये पति की मृत्यु न हो जाए या वह उसे तलाक न दे दे।

   1980 के बाद किसी BJP को मिली 300 से ज्यादा सीटें

- एक चैनल के रिपोर्ट्स के अनुसार इस याचिका को प्रदेश में काफी समर्थन मिला है। 

- इसी कारण यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिला।

- 1980 के बाद पहली बार किसी पार्टी ने प्रदेश की 403 सीटों में 312 पर जीत दर्ज की है। 

    प्रदेश में 18.5 फीसदी जनसंख्या मुस्लिमों की 

- हालिया जनगणना के मुताबिक देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश की आबादी करीब 20 करोड़ है।

- जिसमें लगभग 18.5 प्रतिशत जनसंख्या मुस्लिमों की है।

- तीन तलाक का मुद्दा अभी उच्चतम न्यायालय में लंबित है। 

- इसी बीच कुछ महिलाओं ने इस संबंध में एक याचिका दायर की है।

    क्या कहना हैं केंद्र सरकार का 

- सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार ने तीन तलाक के विरोध में अपनी दलील रखते हुए इसे संविधान के खिलाफ बताया था।

- केंद्र ने कहा था कि यह महिलाओं के साथ अन्याय और भेदभाव की धारणा पैदा करता है।

- हालांकि ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने शीर्ष अदालत में तीन तलाक की पैरवी करते हुए कहा था कि महिला की हत्या करने से बेहतर उसे तलाक देना है।

- मुस्लिम संस्था ने कहा, 'धर्म के नियमों पर अदालती कानून सवाल नहीं उठा सकती।'

   पीएम मोदी कर चुके है विरोध

- 2016 में पीएम नरेंद्र मोदी ने भी तीन तलाक का विरोध करते हुए कहा इसे खत्म करने की वकालत की थी।

- उन्होंने कहा था, 'मुस्लिम महिलाओं के जीने के अधिकार को तीन तलाक के जरिए बर्बाद नहीं किया जा सकता।' 

- इसके साथ ही मोदी ने इस मुद्दे को राजनीतिक रंग देने और वोटबैंक के लिए इस्तेमाल करने पर विपक्ष की आलोचना की थी।

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स



शो

:
:
: