Headline • चीन की धमकियों का जवाब देने के लिए भारत सरकार ने शुरू की ये तैयारी • देश में जानबूझ कर कर्ज नहीं चुकाने वालों की संख्या बढ़ी• चीन ने किया युद्ध अभ्यास,राजनाथ बोले-दुनिया में कोई ऐसा मुल्क नहीं जो भारत को आंख उठाकर देखे• गांव में तनाव: धर्म परिवर्तन कर रचा ली शादी,'साजिद' से बन गया 'राज'• अब ऐप के जरिए पाइए तत्काल टिकट, सरकार ने बदलें ये नियम• दिल्ली के CM केजरीवाल ने कोर्ट में इनसे मांगी माफी, कहा बहकावे में लगा दिए थे आरोप• थियेटर में राष्ट्रगान बजने पर खड़े नहीं हुए कश्मीरी लड़के,पुलिस ने किया...• रायपुर मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से 3 बच्चों की मौत, CM रमन सिंह ने दिए जांच के आदेश• धक्क-धक्क गर्ल माधुरी दीक्षित ने इंस्टा पर शेयर की ये फोटो• मालेगांव ब्लास्ट: सुप्रीम कोर्ट ने कर्नल पुरोहित की अंतरिम जमानत मंजूर की• वरुण धवन ने जारी किया जुड़वा 2' का Poster,फिल्म में ऐसा होगा जैकलीन और तापसी का लुक• पापा शाहिद के साथ पार्क में खेल रही हैं मीशा• BSP के पोस्टर में अखिलेश और मायावती एक साथ,बसपा बोली-'फर्जी है'• बड़ी खबर: नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर ट्रेन में बम की सूचना,ट्रेनों को रोककर की जा रही जांच• बकरी के बच्चे को बचाने के लिए अजगर से भिड़ गए गांव वाले, खड़े होकर देखती रही पुलिस• तेज रफ्तार का कहर: अनियंत्रित होकर ट्रक में घुसी कार, चार की मौत• अमरोहा: पुलिस और बदमाशों के बीच हुई लाइव मुठभेड़, पकड़ा गया शातिर बदमाश• IND&SL: 216 रन पर ऑलआउट हुई श्रीलंका की टीम• इस बॉक्सर के पास है अरबों की संपत्ति, पार्टियों में यूं उड़ाता है पैसा• बचपन में ड्रग्स लेता था ये प्लेयर, AIDS को हराकर बना बेस्ट बॉडी बिल्डर• डोकलाम विवाद पर अमेरिकी कांग्रेस की रिपोर्ट, कहा- 'अभी और बढ़ेगा संघर्ष'• इस्लामिक स्टेट को हराने में जुटी इराकी सेना, इस शहर पर कब्जे के लिए शुरू किया ऑपरेशन• जानें क्यों नासा ने सेट किया 80 हजार फीट ऊंचा गुब्बारा• इलाहाबाद पुलिस की अनोखी पहल, 24 घंटे के लिए थानेदार बनी सौम्या, यूं काटा लोगों का चालान• आप ऐसे बदल सकते हैं अपने आधार का मोबाइल नंबर

BSF जवानों को खाने में मिलती है जली रोटियां, गृहमंत्री ने दिए जांच के आदेश

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में तैनात बीएसएफ के एक जवान तेजबहादुर यादव का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। तेजबहादुर यादव के इस वीडियो में बड़े अफसरों पर जवानों को मिलने वाले खाने में घोटाले का आरोप लगाया है। 

जवानों को भूखे पेट सोना पड़ता है

-बता दें कि तेज बहादुर यादव बीएसएफ की 29वीं बटालियन का सदस्‍य है।

-इस अपलोडेड वीडियो में जवान अपने बड़े सैन्य अधिकारियों से खासा नाराज दिखाई दे रहा है।

-बीएसएफ जवान ने अपने अधिकारियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें कई बार भूखा रखा जाता है। 

-इस वीडियो में जवान बता रहा है कि जवान भूखे पेट रहते हैं। उनकी दाल में सिर्फ हल्दी-नमक ही होता है।

-जवान ने यह भी बताया कि भारत सरकार सब देती है, वहां से सबकुछ आता है। लेकिन अधिकारी कुछ नहीं देते। जवानों को नाश्ते में सिर्फ चाय और जले हुए पराठे मिलते हैं।

-जवान ने कहा कि देशवासियों मैं आपसे एक अनुरोध करना चाहता हूं। हम लोग सुबह 6 बजे से शाम 5 बजे तक, लगातार 11 घंटे इस बर्फ में खड़े होकर ड्यूटी करते हैं।

-कितनी भी बर्फ हो, बारिश हो, तूफान हो, इन्‍हीं हालातों में हम ड्यूटी कर रहे हैं। फोटो में हम आपको बहुत अच्‍छे लग रहे होंगे मगर हमारी क्‍या सिचुएशन हैं, ये न मीडिया दिखाता है, न मिनिस्‍टर सुनता है।

- कोई भी सरकार आईं, हमारे हालात वहीं हैं। मैं इस के बाद तीन वीडियो भेजूंगा जिसको मैं चाहता हूं कि आप दिखाएं कि हमारे अधिकारी हमारे साथ कितना अत्‍याचार व अन्‍याय करते हैं।

 

जवान ने पीएम मोदी से की अपील 

-इस जवान ने पीएम मोदी से अपील की है कि वो इस पूरे मामले की जांच कराएं। 

-इस वीडियो के वायरल होने के बाद सरकार ने इस मामले को गंभीरता से लिया है और जांच का भरोसा दिया है।

-वायरल वीडियो पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट भी किया है। साथ ही उन्होंने गृह सचिव को जांच के आदेश दिए है।

-साथ ही बीएसएफ से रिपोर्ट भी मांगी गई है। जवान के इस वीडियो पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि मामले को गंभीरता से लिया जा रहा है।

 

 जवान का करियर काफी विवादों भरा रहा

-सोशल मीडिया पर वायरल हुए इस वीडियो को अब तक करीब साढ़े 5 लाख लोग देख चुके हैं।

-खबरों की मानें तो इस जवान का करियर काफी विवादों भरा रहा है और अफसरों से बदसलूकी उसकी आदत में शुमार है।

-20 साल की सेवा में तेज बाहदुर को 4 बार कड़ी सजा भी मिल चुकी है। साथ ही उसे क्वार्टर-गार्ड जेल में भी रखा जा चुका है।

-बिना बताए ड्यूटी से गायब होना और शराब पीना और अधिकारियों से बदसलूकी उसकी आदत है। कई बार उसकी कांउसिंलग भी कराई जा चुकी है।

-अपनी इन सभी आदतों की वजह से ही वो अधिकतर हेडक्वॉर्टर में तैनात रहा है। 

 

एलओसी वाले इलाकों पर जवानों के खाने पर दिया जाता है खासा ध्यान 

-बीएसएफ प्रवक्ता के मुताबिक सीमा सुरक्षा बल अपने जवानो के कल्याण के प्रति संवदेनशील है।

- अगर कोई गड़बड़ी पाई जाती है तो उसकी जांच कराई जाती है।

-एलओसी जैसे इलाकों में तो जवानों के खाने पर खासा ध्यान दिया जाता है।

-यहां तैनात जवानों को कैलोरी के हिसाब से डाइट मिलती है। 

-सुबह में नाश्ते में सब्जी और अचार के साथ दो-तीन परांठे मिलते हैं।

- कभी कभी अंडे और ऑमलेट मिलते हैं। दोपहर में दाल सब्जी, रोटी और चावल मिलते हैं। डिनर में दाल, सब्जी और रोटी मिलती है।

-उन्होंने बताया कि कभी कभी जवानों को नॉन-वेज भी दिया जाता हैं। 

 

 

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: